रेप का झूठा आरोप लगाकर करती थी ब्लैकमेल, एंठती थी मोटी रकम

0
85

राजस्थान पुलिस ने बलात्कार का आरोप लगाकर ब्लैकमेल करने वाले एक गिरोह का पर्दाफाश कर दो महिलाओं सहित चार लोगों को नयी दिल्ली से गिरफ्तार किया है। पुलिस उपायुक्त (दक्षिण) विकास पाठक ने आज बताया कि अशोक नगर थाना क्षेत्र में घरेलू सहायिका के रूप में काम करने वाली एक महिला ने आठ अगस्त को अपने नियोक्ता के बेटे शौर्य पर दुष्कर्म कर गर्भवती बनाने का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया था। इसके बाद महिला की एक रिश्तेदार के पति सौरभदास ने आरोपी शौर्य के पिता वीरेन कटारिया से राजीनामा कराने के लिये 50 लाख रूपये की मांग की। सौरभदास दिल्ली के खानपुर इलाके में सर्विस एजेन्सी चलाता है जिसके द्वारा वह दिल्ली तथा अन्य स्थानों पर घरेलू सहायक उपलब्ध कराता है। पुलिस के अनुसार सौरभदास ने विभिन्न माध्यमों से वीरेन कटारिया से लगातार राजीनामा के लिये पैसे की मांग की। उन्होंने बताया कि वीरेन कटारिया ने ब्लैकमेलिंग के संबंध में मामला दर्ज कराकर गत 21 अगस्त को राजीनामे के लिये सौरभदास से 22 लाख रूपये में सौदा तय किया। इसके तहत तीन लाख रूपये 22 अगस्त को दिल्ली में अपोलो अस्पताल के आसपास लेना तथा बाकी 19 लाख रूपये आरोप लगाने वाली महिला द्वारा आरोपी के पक्ष में बयान देने के बाद देना तय किया गया। उन्होंने बताया कि विशेष दल ने दिल्ली पुलिस के सहयोग से कल अपोलो अस्पताल परिसर में यह राशि लेते हुए सौरभदास, जगदेव बेहुरिया (46), उसकी पत्नी लक्ष्मी उर्फ आशा (42) और फरीदाबाद निवासी विमलादेवी (50) को गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि सौरभदास तथा विमला देवी कई वर्षो से घरेलू सहायिका उपलब्ध कराते है और दिल्ली में एक स्वयंसेवी संस्थान भी संचालित करते है। आरोपियों से पूछताछ की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here