वाजपेयी की अस्थि कलश यात्रा कार्यकम में ठहाके लगाते दिखे BJP के 2 मंत्री

0
58

छत्तीसगढ़ के दो मंत्री उस समय ठहाका लगाते नजर आ रहे हैं, जब पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी की अस्थि कलश यात्रा निकाली जा रही थी. इसको लेकर राजनीति गरमा गई है. मामले को लेकर कांग्रेस ने बीजेपी पर करारा हमला बोला. साथ ही वाजपेयी की भतीजी ने बीजेपी पर कलश यात्रा के जरिए चुनावी फायदा लेने की कोशिश करने का आरोप लगाया है. वहीं, बीजेपी ने इसे मानवीय त्रुटि करार दिया है.

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी के अस्थि कलश कार्यक्रम को लेकर आयोजित श्रद्धांजलि सभा में सूबे के सीनियर मंत्री अजय चंद्राकर और बृजमोहन अग्रवाल के ठहाके लगाने को बीजेपी ने मानवीय त्रुटि करार दिया है. दरअसल, सोशल मीडिया पर एक ऐसा वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें राज्य के दो मंत्री उस समय ठहाका लगाते नजर आ रहे हैं, जब पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी की अस्थि कलश यात्रा निकाली जा रही थी.

अस्थि विसर्जन कार्यक्रम के समापन के बाद पार्टी ने माना की यह एक मानवीय त्रुटि थी और इसके लिए प्रदेश पार्टी अध्यक्ष ने दोनों मंत्रियों को समझाया है. बीजेपी प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने गुरुवार शाम को इस बारे में पार्टी का पक्ष रखा. उन्होंने कहा कि कभी-कभार ऐसी मानवीय त्रुटि हो जाती है. हालांकि पार्टी स्तर पर दोनों ही मंत्रियों को इसके लिए समझाया भी गया है.

संजय श्रीवास्तव ने यह भी कहा कि कांग्रेस इस मानवीय त्रुटि को लेकर बखेड़ा कर रही है. इससे साफ है कि वो पीएम वाजपेयी के निधन को भी राजनीतिक रूप देने में जुटी हुई है. बता दें कि गुरुवार को रायपुर में जगह-जगह पंडालों में सभा आयोजित कर वाजपेयी के अस्थि कलश को श्रद्धांजलि दी जा रही थी. इसी दौरान एक कार्यक्रम में स्टेज पर मौजूद दो मंत्री पंचायत व ग्रामीण विकास मंत्री अजय चंद्राकर और कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ठहाका लगाते नजर आए.

बताया जा रहा है कि ये दोनों मंत्री मोबाइल पर किसी क्लिप को देख ठहाका लगा रहे थे. मामले में जब दोनों मंत्रियों से प्रतिक्रिया लेने की कोशिश की गई, तो उन्होंने चुप्पी साध ली. वहीं, इन मंत्रियों के ठहाके को लेकर कांग्रेस ने बीजेपी पर हमला बोला है. कांग्रेस ने कहा कि वह पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का आदर करती है, लेकिन खुद बीजेपी के लोगों को उनके निधन से कोई लेना-देना नहीं है. यही वजह है कि बीजेपी के मंत्री उनके निधन पर दुख व्यक्त करने की बजाय खुशी मना रहे है.

कांग्रेस प्रवक्ता शैलेश नितिन त्रिवेदी ने बीजेपी के नेताओं के इस कारनामे को शर्मनाक करार दिया है. उन्होंने कहा कि वाजपेयी की कलश यात्रा को बीजेपी ने मजाक का विषय बना लिया है. उधर, वायरल वीडियो के जोर पकड़ने के बाद अटल बिहारी वाजपेयी की भतीजी करुणा शुक्ला भी मैदान में कूद गई हैं. उन्होंने दोनों मंत्रियों को मंत्री मंडल से बाहर का रास्ता दिखाने की मांग की है.

उन्होंने भी आरोप लगाया कि पूर्व प्रधानमंत्री की कलश यात्रा निकालकर बीजेपी चुनावी फायदा लेने में जुटी हुई है. इसके जरिए बीजेपी अपनी सरकारों की नाकामी छिपाना चाहती है और वाजपेयी की सहानभूति लहर पैदा करके फिर से छत्तीसगढ़, राजस्थान और मध्य प्रदेश में अपनी सरकार बनाना चाहती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here