सड़क निर्माण में कम अलकतरे के आरोप में तीन एजेंसियों पर कार्रवाई

0
33

आरोपित एजेंसियों को निलंबित करते हुए राशि वसूलने का निर्णय लिया है. पथ प्रमंडल मोतिहारी में मोतिहारी-ढाका-बेलवाघाट सड़क में सातवें किलोमीटर में कराये गये एसडीबीसी काम में प्रयुक्त अलकतरा की मात्रा 3़ 96 फीसदी पायी गयी.

जबकि उसकी मात्रा कम से कम पांच फीसदी होनी चाहिए. उड़नदस्ता दल ने 29 जनवरी 2015 को जांच में कम अलकतरा का प्रयोग का मामला पकड़ा. सड़क निर्माण करनेवाली कंपनी मेसर्स त्रषि बिल्डर्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड श्रीकृष्णा नगर मोतिहारीको दो साल के लिए निलंबित किया गया है. साथ ही कम अलकतरा की राशि के समतुल्य राशि की वसूली राशि करने के लिए मोतिहारी कार्यपालक अभियंता को निर्देश दिया गया.

एनएच पूर्णिया प्रमंडल में एनएच 131-ए में 55वें से 70वें किलोमीटर में आइआरक्यूपी काम में अलकतरा का प्रयोग मात्र 4़ 07 फीसदी पायी गयी, जबकि अलकतरा का प्रयोग पांच फीसदी होना चाहिए. उड़नदस्ता दल द्वारा अनियमितता पकड़े जाने पर विभाग कंपनी जे एम सी कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड को दो साल के लिए निलंबित करते हुए उससे राशि वसूल करेगी.

एनएच प्रमंडल गया में एनएच -110 में 68वें किलोमीटर से 87वें किलोमीटर के बीच चौड़ीकरण व मजबूतीकरण का जिम्मा बीएलए प्रोजेक्टस प्राइवेट लिमिटेड को मिला था. उड़नदस्ता दल ने जांच में पाया गया कि सड़क उस हिस्से में क्षतिग्रस्त होने के साथ ही 70वें किलोमीटर में अलकतरा की मात्रा 3. 3 फीसदी का उपयोग किया गया.

टेंडर में शामिल होकर काम लेनेवाले एजेंसियों द्वारा समय पर काम पूरा नहीं करने के आरोप में 13 एजेंसियों को अगले टेंडर में शामिल होने से वंचित कर दिया है.

अररिया में खूंटी चौक से हरवा चौक पथ में आरसीसी पुल निर्माण काम में धीमी प्रगति के कारण नक्षत्रा इंफ्रास्ट्रक्चर्स, छपरा पथ प्रमंडल में हरिहरनाथ-पहलेजाघाट सड़क के मेंटनेेंस का काम समय पूरा नहीं होने के कारण संवेदक हेमंत कुमार सिंह व सिलहोरी से शालपुर के बीच सड़क के चौड़ीकरण व मजबूतीकरण काम समय पर पूरा होने के कारण भरत इंफ्राकॉन प्राइवेट लिमिटेड कंपनी को अगले किसी भी टेंडर में भाग लेने से वंचित कर दिया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here