मोदी सरकार लाएगी नया बैंक अकाउंट? जमा करेंगे पैसे, मिलेगा सोना

0
81

बैंक‍िंग व्यवस्था से दूर रहने वाले नागरिकों को इससे जोड़ने की खातिर मोदी सरकार ने जन-धन योजना शुरू की थी. जन-धन के बाद अब मोदी सरकार एक नये तरह का बैंक अकाउंट ला सकती है.

यह अकाउंट भी किसी आम बैंक अकाउंट की तरह बैंकों में ही खुलेगा. इस पर सेविंग्स अकाउंट की तरह ही आपको ब्याज मिलेगा. लेक‍िन सेविंग्स अकाउंट से एक मामले में यह काफी अलग होगा.

हाल ही में नीति आयोग ने वित्त मंत्रालय को गोल्ड सेविंग्स अकाउंट की नई व्यवस्था शुरू करने का सुझाव दिया है. बताया जा रहा है कि वित्त मंत्रालय भी इसे लाने पर गंभीरता से विचार कर रहा है. नीति आयोग ने गोल्ड सेविंग्स अकांउट का सुझाव ‘ट्रांसफोर्मिंग इंडियाज गोल्ड मार्केट’ पेपर में दिया है.

गोल्ड सेविंग्स अकाउंट में आप जमा तो पैसे करेंगे, लेक‍िन आपकी पासबुक पर सोने की मात्रा दर्ज की जाएगी. नीति आयोग की तरफ से तैयार किए गए दस्तावेजों के मुताबिक आपको कम से कम एक ग्राम सोने के बराबर की राश‍ि इस खाते में जमा करनी होगी.

मान लीजिए कि 10 ग्राम सोना 30 हजार रुपये का फिलहाल मिल रहा है. ऐसे में अगर आप अपने खाते में 15 हजार जमा करते हैं, तो यह 5 ग्राम सोने के तौर पर दर्ज होगा.

सोना भी और रुपये भी नीति आयोग की तरफ से गोल्ड सेविंग्स अकाउंट को लेकर दी गई जानकारी के मुताबिक जरूरत के समय आप इस अकाउंट जो चाहें वो निकालें. मतलब अगर आपके खाते में 30 हजार रुपये का सोना है. ऐसे में आपके पास विकल्प है कि आप चाहें तो बाजार भाव के मुताबिक इतना सोना लें या फिर ये रकम ही विद्ड्रा कर लें.

हालांकि नीति आयोग ने यह भी साफ किया है कि अगर बैंक के पास फिलहाल फिजिकल गोल्ड देने की सुविधा नहीं होगी, तो ऐसे समय में बैंक अपने ग्राहकों को रुपये दे सकते हैं. लेकिन यह तब तक ही होगा, जब तक बैंक अपनी फिजिकल गोल्ड कैपेसिटी को तैयार नहीं कर लेता.

गोल्ड सेविंग्स अकाउंट एक सामान्य सेविंग्स अकाउंट की तरह ही काम करेगा. इसमें आपको बैंक की तरफ से एक तय ब्याज भी दिया जाएगा.

बाजार भाव पर न‍िर्भर जब भी आप अपने गोल्ड सेविंग्स अकाउंट में रकम जमा करने जाएंगे, तो उस समय के बाजार भाव के अनुसार ही आपके खाते में सोने की मात्रा दर्ज की जाएगी. वहीं, जब आप खाते से सोना निकालना चाहेंगे, तो यह भी तब के बाजार भाव के हिसाब से मिलेगा.

मिलेगी होम डिलीवरी नीति आयोग अपने पेपर में कहता है कि 1 ग्राम से कम सोने की डिलीवरी संभव नहीं होगी. अगर आपको होम डिलीवरी चाहिए तो आपको इससे ज्यादा सोना निकालना होगा. जब आप इसकी डिलीवरी लेंगे, तो आपको इस पर टैक्स और इंपोर्ट ड्यूटी भी देनी होगी. इस अकाउंट को कैपिटल गेन्स टैक्स से बाहर रखने का सुझाव दिया गया है.

कर सकेंगे ट्रांसफर गोल्ड सेविंग्स अकाउंट को चलाने के लिए कोई समय सीमा तय नहीं होगी. अकाउंट होल्डर जब तक चाहेगा इस खाते को चला सकेगा. कोई खाताधारक अगर अपने गोल्ड को ट्रांसफर करना चाहेगा, तो ये भी संभव हो सकेगा. (सभी फोटो प्रतीकात्मक)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here