दिल्ली में बोलने से चार्जशीट से नाम नहीं मिटता : सुशील मोदी

0
62

उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने ट्वीट कर कहा है कि बिहार के बाहर झारखंड-यूपी से दिल्ली विधानसभा के चुनाव तक में जब लालू प्रसाद अपनी पार्टी के उम्मीदवार खड़े कर राजनीतिक औकात नाप चुके, तब उनके परिवार की दूसरी पीढ़ी जोर आजमाने चली है.

जंतर-मंतर पर धरना देने समर्थक छात्रों की तालियों के बीच भाषण करने और जेएनयू में पार्टी की छात्र इकाई के छात्रसंघ चुनाव लड़ने जैसे फैसले से 26 साल में 26 बेनामी सम्पत्ति बनाने का गुनाह फीका नहीं पड़ जायेगा. दिल्ली में बोलने से न कोई बड़ा हो जाता है, न भ्रष्टाचार की चार्जशीट से नाम मिटता है. मोदी ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि गरीबों के नाम पर राजनीति करने वाले राजद ने गरीबों, पिछड़ों, दलितों के बच्चों की पढ़ाई के लिए शिक्षा बजट के लिए केवल 4261 करोड़ रुपये रखे थे. जबकि, एनडीए सरकार ने 12 साल में इसे बढ़ाकर 34000 करोड़ तक पहुंचाया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here