अनशन के दौरान हार्दिक पटेल का वजन ‘बढ़ने’ का ये है राज़…

0
28

पाटीदार नेता हार्दिक पटेल अहमदाबाद में 25 अगस्त से भूख हड़ताल पर हैं. अनशन के दौरान हार्दिक पटेल से मिलने आने के लिए बीजेपी के विरोधी दलों के नेताओं का तांता लगा हुआ है. हार्दिक पटेल शिक्षण संस्थानों और नौकरियों में पाटीदारों के लिए आरक्षण की मांग कर रहे हैं. साथ ही वो किसानों के कर्ज माफ़ी की भी मांग कर रहे हैं.

हार्दिक के संगठन- पाटीदार अनामत आंदोलन समिति (PASS) ने चेतावनी दी कि अगर राज्य सरकार ने 24 घंटे में बात शुरू नहीं की तो हार्दिक पानी का सेवन करना भी छोड़ देंगे. लेकिन सोशल मीडिया पर हार्दिक पटेल को ट्रोल किया जा रहा है कि अनशन के दौरान उनक वजन बढ़ गया है.

4 सितंबर को अहमदाबाद स्थित सोला सिविल अस्पताल के डॉक्टरों ने हार्दिक का मेडिकल चेकअप किया. डॉक्टरों ने तब कहा कि युवा नेता को अस्पताल में भर्ती कराए जाने की जरूरत है क्योंकि उनका वजन 20 किलो घट गया है.

डॉक्टरों ने 5 सितंबर को हार्दिक का दोबारा वजन किया तो उनका वजन 65 किलो निकला. इसके बाद ये खबर फैलने में देर नहीं लगी कि हार्दिक का वजन फिर से बढ़ने लगा है.

सवाल किए जाने लगे कि क्या अनशन पर चल रहे हार्दिक छुपे तौर पर खाना ले रहे हैं? अनशन पर होते हुए भी उनका वजन बढ़ा?

अनशन से पहले हार्दिक पटेल का वजन 78 किलोग्राम था. लेकिन जब 4 सितंबर को सोला सिविल अस्पताल के डॉक्टरों ने हार्दिक का मेडिकल चेकअप किया तो युवा नेता का वजन 58 किलोग्राम था. लेकिन अगले दिन 5 सितंबर को हार्दिक का वजन बढ़कर 65 किलोग्राम निकला. इस पर हार्दिक के विरोधी सोशल मीडिया पर उन्हें निशाना बनाने लगे.

हालांकि हार्दिक का मेडिकल चेकअप करने वाली टीम ने बाद में कबूल किया कि युवा नेता के वजन में गड़बड़ वजन लेने वाली मशीन में त्रुटि की वजह से हुई. जब 4 सितंबर को हार्दिक का वजन लिया गया तो वो वास्तव में 20 किलोग्राम कम नहीं बल्कि 13 किलोग्राम कम हुआ था. सोला सिविल अस्पताल के डॉ प्रवीण सोलंकी के मुताबिक हार्दिक के वजन में अनशन के दौरान बढ़ोतरी नहीं हुई है बल्कि ये लगातार कम हो रहा है.

आप खुद ही जानिए डॉ प्रवीण सोलंकी का क्या कहना है वजन के इस विवाद पर- ‘हमने उनके खून के सेम्पल के लिए कहा लेकिन उन्होंने मना कर दिया. उन्हें सांस लेने में दिक्कत पेश आ रही है. इसीलिए हमने उन्हें अस्पताल मे भर्ती होने की सलाह दी. हमने उन्हें ORS और जूस लेने के लिए कहा है. पहले वजन में गिरावट रिकॉर्ड की गई लेकिन वजन मशीन में त्रुटि होने की वजह से वजन सही नहीं आया. यही कारण है कि वजन ऊपर-नीचे आया.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here