पेट्रोल की बढ़ती कीमतों के विरोध में कांग्रेस के भारत बंद को इन दलों का मिला समर्थन

0
151

कांग्रेस ने नरेंद्र मोदी सरकार पर साढ़े चार साल में 11 लाख करोड़ रुपये ‘लूटने’ के आरोप लगाये हैं. सरकार की इस लूट के विरोध में और मोदी सरकार को घेरने के लिए पार्टी ने 10 सितंबर को ‘भारत बंद’ भी बुलाया है.

पार्टी का कहना है कि उसने अन्य विपक्षी दलों से बात की है. ज्यादातर पार्टियों ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार हो रही बढ़ोतरी के विरोध में इस भारत बंद में साथ देने का वादा किया है.

कांग्रेस ने सामाजिक संगठनों और सामाजिक कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि वे ‘भारत बंद’ का समर्थन करें. कांग्रेस का कहना है कि ‘सोती हुई सरकार को जगाने के लिए’ उसकी ओर से आहूत ‘भारत बंद’ सुबह नौ बजे से दिन में तीन बजे तक होगा, ताकि आम जनता को दिक्कत नहीं हो.

पार्टी के संगठन महासचिव अशोक गहलोत ने संवाददाताओं से कहा, ‘आज देश का कोई वर्ग खुश नहीं है. महंगाई की मार ने सभी की कमर तोड़ दी है. पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दाम से सब परेशान हैं. हिंसा का माहौल भी है. हर कोई परेशान है.’

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार ने पिछले साढ़े चार वर्षों में पेट्रोल-डीजल पर टैक्स के जरिये 11 लाख करोड़ रुपये की ‘लूट’ की है.

उन्होंने कहा कि ‘भारत बंद’ का आह्वान किया गया है, ताकि सरकार पर पेट्रोल-डीजल के दाम कम करने और इन दोनों पेट्रोलियम उत्पादों को जीएसटी के दायरे में लाने के लिए दबाव बनाया जा सके.

सुरजेवाला ने कहा कि पार्टी के वरिष्ठ नेताओं, अहमद पटेल, मल्लिकार्जुन खड़गे और अशोक गहलोत ने विपक्षी पार्टियों से बात की है. सभी ने इसके समर्थन की बात की है.

पार्टी के कोषाध्यक्ष अहमद पटेल ने कहा, ‘ज्यादातर विपक्षी पार्टियों से हमारी बात हुई है. ज्यादातर ने समर्थन किया है. तृणमूल कांग्रेस ने समर्थन की बात की है, लेकिन वह बंद में शामिल नहीं होगी. बसपा से अभी बात नहीं हुई है.’

सुरजेवाला ने कहा, ‘मोदी सरकार ने साढ़े चार साल में पेट्रोल-डीजल पर कर लगाकर 11 लाख करोड़ रुपये कमाया. आम लोगों की जेब पर डाका डालकर जो पैसे निकाले गये, वो किसकी जेब में गये, मोदी जी बता नहीं रहे हैं.’

उन्होंने कहा, ‘मई, 2014 से पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क में 210 फीसदी की बढ़ोतरी की. डीजल पर उत्पाद शुल्क 444 फीसदी बढ़ाया जा चुका है. मोदी सरकार ने पेट्रोल के दाम में लगातार बढ़ोतरी की है. गैस सिलिंडर का दाम दोगुना कर दिया गया.’

सुरजेवाला ने कहा, ‘जेटली जी ने कहा कि पेट्रोल-डीजल की कीमत कम करने के लिए जादू की छड़ी नहीं है. इस सरकार ने जनता को राहत देने की बजाय अपने हाथ खड़े कर दिये हैं.’

सूत्रों का कहना है कि तृणमूल कांग्रेस ने ‘भारत बंद’ में भाग लेने से मना किया, क्योंकि पश्चिम बंगाल में उसकी सरकार है और वह राज्य में जन-जीवन कानून ठप कराने के पक्ष में नहीं है.
कांग्रेस सूत्रों के अनुसार, ‘भारत बंद’ में उसे सपा, राकांपा, रालोद और कुछ अन्य दलों का समर्थन मिला है और बसपा एवं कुछ छोटे दलों से शुक्रवार या शनिवार तक बात कर ली जायेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.