पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ विपक्ष का भारत बंद आज

0
26

पेट्रोल-डीजल के दाम में बेतहाशा बढ़ोतरी और बढ़ती महंगाई के विरोध में सोमवार 10 सितंबर को कांग्रेस और दूसरे विपक्षी दलों ने भारत बंद का आह्वान किया है। कांग्रेस के मुताबिक इस बंद को सफल बनाने के लिए 20 राजनीतिक दलों का उसे समर्थन प्राप्त है। पार्टी ने अन्य विपक्षी दलों से भी बंद को सफल बनाने के लिए समर्थन देने की अपील की है। कांग्रेस के मुताबिक यह बंद बंद सुबह 9 बजे से दिन में तीन बजे तक होगा। कांग्रेस मुख्यालय में संवाददाता सम्मेलन में दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष और वरिष्ठ प्रवक्ता अजय माकन ने अपने पार्टी कार्यकर्ताओं से बंद को सफल बनाने की अपील की है। साथ ही उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से आह्वान किया है कि बंद के दौरान किसी प्रकार की हिंसा न हो। उन्होंने कहा कि कांग्रेस महात्मा गांधी के आदर्शों पर चलने वाली पार्टी है और आम आदमी को कोई तकलीफ न हो। वहीं कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि हमलोगों ने बंद का समय इसी आधार पर तय किया है, जिससे की आमलोगों को किसी भी तरह की दिक्कत का सामना ना करना पड़े। इसके साथ ही कांग्रेस ने ने एक बार फिर ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों को जीएसटी के दायरे में लाने की मांग की है।कांग्रेस का दावा है कि ‘भारत बंद’ को समाजवादी पार्टी , बहुजन समाज पार्टी, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, डीएमके, राष्ट्रीय जनता दल, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी, जनता दल सेक्युलर, राष्ट्रीय लोकदल, झारखंड मुक्ति मोर्चा, एमएनएस और कई अन्य दल समर्थन कर रहे हैं।
तृणमूल कांग्रेस बंद में नहीं
वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि वह महंगाई और पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों के विरोध में जरूर हैं, लेकिन वह बंद के समर्थन में नहीं हैं। बंद में शिवसेना भी हिस्सा नहीं लेगी, जबकि एमएनएस ने सक्रिय रूप से हिस्सा लेने का एलान किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here