तीज का उपवास रखी मां ने बेटे को फूल लाने भेजा, बस ने इकलौते बेटे को रौंदा, सड़क जाम

0
73

दानापुर रेलवे स्टेशन के नजदीक अहले सुबह साढ़े छह बजे 11 साल का मासूम अपनी मां के लिए तीज पूजा के लिए फूल लाने निकला. घर से थोड़ी दूरी पर ही खगौल शिवाला मार्ग पर तेज रफ्तार वाहन ने उसे रौंदते हुए फरार हो गया. बच्चे की मां ने ही तीज व्रत के लिए सुबह-सुबह पूजा के फूल लाने के लिए एकलौते बेटे को भेजी थी. पति की लंबी उम्र के लिए व्रत किये अभागिन मां को क्या मालूम था कि भगवान आज उसकी कोख ही उजाड़ देंगे. 11 साल के मासूम की मौत से परिजनों समेत पूरे मोहल्ले में चीत्कार मच गया. आक्रोशित लोग सड़क जाम कर कई वाहनों पर पथराव करने लगे. टायर जलाकर अगजनी करते हुए प्रशासन के खिलाफ गुस्से का इजहार किया. घंटों कई थाने की पुलिस आक्रोशित लोगों को समझाने में जुटी रही. करीब तीन से चार घंटे बाद सड़क जाम हटाया जा सका.

लोगों ने बताया कि खगौल शिवाला मार्ग में मंत्री नंद किशोर यादव की बेटी का पेट्रोल पंप है. उसके बगल में रहनेवाले जितेंद्र की पत्नी ने सुबह 6:30 मिनट पर अपने 11 साल के बेटे को पूजा के लिए फूल लाने भेजी थी. पति की लंबी उम्र के लिए तीज व्रत को लेकर मां उपवास पर थी. उसने अपने 11 साल के एकलौते बेटे को फूल लाने भेजी. लेकिन, नियति को कुछ और ही मंजूर था. बच्चा अभी घर से चंद कदम ही चला था कि उसे बेलगाम रफ्तार वाहन ने कुचल दिया. दुर्घटना इतनी भयावह थी कि मासूम के चिथड़े उड़ गये.

मासूम अंकित के घर जब उसकी मौत की मनहूस खबर पहुंची, तो मां पछाड़ खाकर बेहोश हो गयी. पिता जितेंद्र कुमार पागलों-सी दौड़ लगाते चीत्कार करते पहुंचे और बेटे की लाश देख वहीं गिर कर बेहोश हो गये. घटना दानापुर रेलवे स्टेशन से पश्चिम शिवाला जा रही रोड में पेट्रोल पंप के समीप हुई. दर्दनाक और लोमहर्षक घटना की जानकारी मिलते ही लोग सड़क पर उतर गये और आक्रोशित होकर सड़क जाम कर अगजनी करने लगे. गुस्साए लोगों ने कई वाहनों पर पथराव कर क्षतिग्रस्त कर दिया. देखते ही देखते इस मार्ग पर गुजर रही वाहनों चालकों में हडकंप मच गया और लोग अपनी वाहन पीछे करने लगे.

इधर, सड़क पर घटस्थल के समीप महिलाएं विलाप करने लगी. 11 साल के इकलौते बेटे की का एक बार चेहरा दिखाने की बार-बार जिद करती व्रत की हुई अभागिन मां के चीत्कार से लोगों का कलेजा फटने लगा. पूरे मोहल्ले की महिलाएं विलाप करने लगी, तो सबकी आंखें बरस पड़ी.

बवाल की खबर सुनकर मौके पर दानापुर एएसपी मनोज तिवारी खगौल औऱ शाहपुर समेत आस पास के कई थानों की पुलिस के साथ पहुंचे और लोगों को समझाने में जुटे रहे. जमालुद्दीन चक, सरारी और आस पास के कई गाँव के सैंकड़ो लोग मौके पर पहुंचे और घटना के लिए पुलिस की लापरवाही बताते हुए एएसपी से शिकायत की कि सरारी रेलवे गुमटी के आस पास दर्जनों बालू लोडेड ट्रैक्टर और ट्रकों की कतारें लगी रहने से सड़क संकरी हो जाती है. पुलिस इनसे अवैध वसूली में लगी रहती है और दुर्घटनाओं को रोकने के लिए कोई कुछ नहीं करता. मौके से ही एएसपी ने पुलिस को फटकार लगायी और बालू लोडेड वाहनों को नही लगाने का निर्देश दिया.

करीब तीन चार घंटे बाद किसी तरह लोगों को समझाने में कामयाब पुलिस ने सड़क से लाश को कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा और आवागमन सुचारू कराया. पुलिस अफसरों को स्थानीय लोगों ने बताया कि तेज रफ्तार स्कूली बस ने बच्चे को कुचल दिया और तेजी से भाग गयी. लोगों ने इस मार्ग पर मौत की रफ्तार से दौड़ती वाहनों की गति पर लगाम लगाने की पुरजोर मांग की है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here