पटना से जनकपुर और बोधगया से काठमांडो के लिए बस सेवा शुरू, लंबी दूरी की भाड़ा बेसिक आधार पर होगी तय

0
133

सीता की जन्मभूमि जनकपुर और काठमांडो स्थित पशुपतिनाथ धाम का दर्शन अब लोग काफी सहूलियत से कर सकते हैं. मंगलवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भारत-नेपाल बस सेवा का शुभांरभ करते हुए पटना से जनकपुर और बोधगया से काठमांडो के लिए बसों को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया.

मुख्यमंत्री सचिवालय स्थित संवाद के सामने फूल-माला से सुसज्जित काठमांडों के लिए तीन और जनकपुर के लिए एक बस को रवाना किया गया.

इससे पहले मुख्यमंत्री आधुनिक तकनीक सुविधाओं से सुसज्जित इन बसों का निरीक्षण किया. बसों में सवार नेपाल के यात्रियों के साथ बातचीत की. मौके पर परिवहन मंत्री संतोष कुमार निराला ने मुख्यमंत्री को गुलदस्ता, जबकि बोधगया टेंपल मैनेजमेंट कमेटी के सचिव नांग्जे दोरजे और चीफ मोंक चालिंदा ने मुख्यमंत्री को अंगवस्त्र भेंटकर उनका अभिनंदन किया. वहीं पाग, अंगवस्त्र व मधुबनी पेंटिंग भेंटकर मुख्यमंत्री का स्वागत किया गया. इस अवसर पर बिहार और नेपाल के कलाकारों ने मुख्यमंत्री के समक्ष लोक कला का प्रदर्शन किया. परिवहन मंत्री संतोष निराला व परिवहन विभाग के सचिव संजय अग्रवाल ने मुख्यमंत्री को पशुपतिनाथ मंदिर की तस्वीर भेंट की.

इस अवसर पर बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकार के सदस्य उदय कांत मिश्र, मुख्य सचिव दीपक कुमार, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार, मुख्यमंत्री के सचिव मनीष कुमार वर्मा, निदेशक सूचना व जनसंपर्क अनुपम कुमार, डीएम कुमार रवि, बोधगया से आये बौद्ध भिक्षुगण, नेपाली प्रतिनिधिमंडल और परिवहन विभाग के कई अधिकारी उपस्थित थे.

जनकपुर और काठमांडो के लिए बुधवार से बसों का परिचालन नियमित होगा. दोनों रूटों पर आठ बसें चलेंगी. पटना से मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी, भिट्ठा मोड़ होते हुए जनकपुर बस जायेगी. वहीं, बोधगया-काठमांडो की बसें गया, पटना, हाजीपुर, मुजफ्फरपुर, मोतिहारी, रक्सौल, हेटौड़ा, मुंगलिंग होते हुए काठमांडो जायेगी.

12 से 18 सितंबर तक बोधगया से काठमांडो के लिए यात्री किराया में 10% छूट रहेगी. बोधगया से काठमांडो व पटना से जनकपुर के लिए काउंटर के अलावा ऑनलाइन टिकट बुकिंग की व्यवस्था है. रेड बस सर्विस की वेबसाइट से ऑनलाइन टिकट बुकिंग कराने की सुविधा उपलब्ध होगी. टिकट बुकिंग के लिए मोबाइल नंबर -9905799951 पर संपर्क किया जा सकता है. नेपाल भी आठ बसें चलायेगा.

बोधगया से काठमांडो के लिए सुबह 10 बजे बस खुलेगी. दूसरे दिन सुबह सात बजे वह काठमांडो पहुंचेगी. काठमांडो से रात आठ बजे खुल कर दूसरे दिन शाम 4:50 बजे बोधगया पहुंचेगी. पटना से पहली बस सुबह 4:10 बजे जनकपुर के लिए खुलेगी. दूसरी बस अपराह्न 3:15 बजे व तीसरी बस रात 9:05 बजे खुलेगी. जनकपुर से पहली बस सुबह 7:05 बजे, दूसरी बस सुबह नौ बजे व तीसरी बस रात आठ बजे खुलेगी.
किराया निर्धारित

स्थान किमी किराया
बोधगया-काठमांडो 619 Rs 1250
पटना-काठमांडो 497 Rs 1015
बोधगया-पटना 122 Rs 235
बोधगया-मुजफ्फरपुर 202 Rs 410
बोधगया-मोतिहारी 286 Rs 560
बोधगया-रक्सौल 334 Rs 675
मुजफ्फरपुर-काठमांडो 417 Rs 855
मोतिहारी-काठमांडो 340 Rs 685
वीरगंज-काठमांडो 285 Rs 570
रक्सौल/वीरगंज-पटना 212 Rs 435
पटना-जनकपुर 205 Rs 275
बस भाड़े में 20% होगी वृद्धि, प्रस्ताव तैयार

पटना : डीजल की कीमत में लगातार वृद्धि का असर अब यात्रियों पर भी पड़ेगा. परिवहन विभाग ने बस भाड़े में 20% बढ़ोतरी का प्रस्ताव तैयार किया है. इस प्रस्ताव पर आम जनता, ट्रांसपोर्टरों सहित अन्य विभिन्न संगठनों से आपत्ति व सुझाव मांगे गये हैं. 30 दिनों के बाद तैयार प्रस्ताव अमल में आ जायेगा.

चार साल बाद परिवहन विभाग ने बस भाड़ा रिवाइज किया है. इससे पहले परिवहन विभाग ने अगस्त, 2014 में बस भाड़ा लागू किया था. इसके बाद पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार कमी के बाद फरवरी, 2015 में परिवहन निगम ने पहले से निर्धारित भाड़े को रिवाइज करते हुए कम किया था. अब तक वह भाड़ा ही लागू है. हालांकि प्राइवेट बस मालिकों ने परिवहन विभाग द्वारा भाड़ा बढ़ोतरी प्रस्ताव तैयार करने से पहले ही भाड़ा बढ़ा दिया है.

अनुसार साधारण बस के लिए 90 पैसे प्रति किमी, एक्सप्रेस बस 95 पैसे, सेमी डीलक्स बस एक रुपये 14 पैसे, डीलक्स बस एक रुपये 36 पैसे, डीलक्स एसी बस एक रुपये 50 पैसे, वाल्वो बस दो रुपये प्रति किमी है. नगरीय बस सेवा में पहले चार किमी के लिए प्रति किमी एक रुपये 24 पैसे व अगले प्रत्येक दो किमी के लिए एक रुपये नौ पैसे भाड़ा तय किया गया है.

लंबी दूरी की भाड़ा बेसिक आधार पर तय
लंबी दूरी की बस सेवा के भाड़ा पहले सौ किमी तक उस श्रेणी की बेसिक भाड़ा दर के आधार पर तय होगा. 101 किमी से 250 किमी तक की दूरी के लिए बेसिक भाड़ा दर के आधार पर निर्धारित किराये में 20% की कमी, 251 किमी से ज्यादा दूरी के लिए उस श्रेणी की बेसिक भाड़ा दर निर्धारित की जायेगी.
सीटों के आधार पर बसों का रोड टैक्स तय

पटना : परिवहन विभाग ने सीटों के आधार पर बसों का रोड टैक्स तय किया है. नये रोड टैक्स से संबंधित अधिसूचना जारी कर दिया गयी है. इसके अनुसार वाहनों की एक्सशो रूम की कीमत पर स्लैब के अनुसार नया रोड टैक्स लगेगा. इसमें अधिक महंगे वाहनों के शौकीन लोगों को अधिक रोड टैक्स देना होगा. कैबिनेट ने इसकी पहले ही मंजूरी दे दी है.

13 से 26 सीट वाले साधारण बस को 550 रुपये, सेमी डीलक्स बस को 475 रुपये व डीलक्स को 785 रुपये प्रति सीट रोड टैक्स लगेगा. 27 से 32 सीट वाले साधारण बस को 600 रुपये, सेमी डीलक्स बस को 750 रुपये व डीलक्स बस को 860 रुपये प्रति सीट, 33 या उससे अधिक सीट वाले साधारण बस को 700 रुपये, सेमी डीलक्स को 870 रुपये व डीलक्स को 1025 रुपये प्रति सीट रोड टैक्स लगेगा. बसों को हर साल 2% की दर से रोड टैक्स में वार्षिक वृद्धि होगी. अप्रैल, 2019 से 2% वार्षिक वृद्धि लगेगी.

व्यावसायिक वाहनों में एक टन तक लदान क्षमता वाले नये वाहनों को 10 साल के लिए 8000 रुपये और एक से तीन टन तक क्षमता वाले वाहनों को 6500 रुपये एकमुश्त टैक्स लगेगा. तीन से 16 टन तक क्षमता वाले वाहनों को प्रति टन 750 रुपये प्रत्येक साल, 16 से 24 टन तक क्षमता वाले वाहनों को 700 रुपये और 24 टन से अधिक क्षमता वाले वाहनों को 600 रुपये प्रति टन प्रति साल लगेगा.
चारपहिया वाहनों पर में स्लैब के आधार पर टैक्स

चारपहिया वाहनों को एक्सशो रूम की कीमत के स्लैब पर एकमुश्त 15 साल के लिए रोड टैक्स लगेगा. एक लाख की कीमत वाले वाहनों पर 8%, एक से आठ लाख कीमत वाले वाहनों पर 9%, आठ से 15 लाख तक वाले वाहनों पर 10% व 15 लाख से अधिक कीमत वाले वाहनों पर 12% रोड टैक्स लगेगा. इसके अलावा 1% रोड सेफ्टी टैक्स लगेगा. दुपहिया वाहनों पर एक लाख तक की कीमत पर 8% रोड टैक्स व 1% रोड सेफ्टी टैक्स लगेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here