CM नीतीश ने विजय रूपाणी से की बात, गुजरात के गृह मंत्री बोले- पिछले 24 घंटों में हमलों की संख्या में आयी है कमी

0
172

पटना : गुजरात के साबरकांठा जिले में 14 माह की बच्ची से बलात्कार की घटना के बाद गैर-गुजरातियों पर हो रहे हमले को लेकर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी से बात की है. मुख्यमंत्री नीतीश ने बताया कि मैंने गुजरात के मुख्यमंत्री से बात की है. हम लगातार उनके संपर्क में हैं. गुजरता सरकार भी पूरे स्थिति पर नजर बनाये हुए है. नीतीश कुमार ने कहा कि जिन्होंने अपराध किया है उन्हें दंडित किया जाना चाहिए. लेकिन, दूसरों के लिए कोई पूर्वाग्रह नहीं होना चाहिए. किसी और के किये गलती की सजा किसी और को नहीं मिलनी चाहिए.वहीं, इस संबंध में गुजरात के गृह मंत्री प्रदीप सिंह जडेजा ने कहा कि पिछले 4-5 दिनों में गुजरात में यूपी और बिहार के लोगों पर हमले हुए हैं. हमने इन हमलों में शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई की है. गुजरात पुलिस ने कई लोगों को गिरफ्तार की है और उनसे पूछताछ कर रही है. जहां भी जरूरत है पुलिस कार्रवाई कर रही है. सोशल मीडिया पर भी नजर बनाये हुए है. सोशल मीडिया पर नफरत फैलाने वालों पर हमने आईटी अधिनियम के तहत 3 मामले पंजीकृत किये हैं.प्रदीप सिंह जडेजा ने कहा कि अन्य राज्यों से रोजगार के लिए गुजरात आने वाले लोगों को सुरक्षा प्रदान करना हमारी जिम्मेदारी है. हम केंद्र सरकार के संपर्क में हैं. घटना के बारे में केंद्र सरकार को भी एक रिपोर्ट भेजी जा चुकी है. हमने 35 एफआईआर दर्ज करायी है. पिछले 24 घंटों में हमलों की संख्या में कमी आई है. हम लोगों से अपील करते हैं कि हम उचित कार्रवाई कर रहे हैं.इससे पहले रविवार को गुजरात के विभिन्न भागों से पुलिस ने 342 लोगों को गिरफ्तार किया था. पुलिस महानिदेशक शिवानंद झा ने पत्रकारों को बताया था कि मुख्य रूप से छह जिले (हिंसा से) प्रभावित हुए है. मेहसाणा और साबरकांठा सबसे अधिक प्रभावित हुए है. इन जिलों में, 42 मामले दर्ज किये गये है और अब तक 342 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है. जांच के दौरान आरोपियों के नाम सामने आने के बाद और लोगों को गिरफ्तार किया जायेगा. उन्होंने बताया था कि प्रभावित क्षेत्रों में राज्य रिजर्व पुलिस (सीआरपी) की 17 कंपनियों को तैनात किया गया है. उन्होंने कहा कि गैर-गुजराती के निवास क्षेत्रों और उन कारखानों में जहां वे काम करते हैं, वहां सुरक्षा बढ़ा दी गयी है. पुलिस ने इन इलाकों में गश्त भी बढ़ा दी है.

गौरतलब हो की गत 28 सितंबर को एक बच्ची के साथ कथित रूप से बलात्कार करने के लिए बिहार के एक निवासी को गिरफ्तार किये जाने के बाद गैर-गुजरातियों को निशाना बनाया गया और सोशल मीडिया पर घृणा संदेश फैलाये गये. इसके बाद बड़ी संख्या में उत्तर भारतीय गुजरात छोड़ बिहार लौट रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.