अमेरिका में 150 साल के सबसे खतरनाक तूफान ‘माइकल’ ने दी दस्तक

0
121

अमेरिका में 150 साल के सबसे शक्तिशाली तूफान माइकल ने गुरुवार को फ्लोरिडा में दस्तक दी। श्रेणी चार के इस खतरनाक तूफान ने तट से टकराने के तुरंत बाद एक जान ले ली है। मेक्सिको के खाड़ी क्षेत्र में इस तूफान की वजह से कई पेड़ और बिजली के खंभे उखड़ गए। कई सड़कों और घर पानी में डूब गए।

फ्लोरिडा के अधिकारियों ने कहा कि माइकल की वजह से 155 मील प्रतिघंटा (250 किलोमीटर प्रतिघंटा) की रफ्तार से हवाएं चलीं। प्रांत के उत्तरी पेनहैंडल इलाके में करीब एक शताब्दी में आया यह सबसे शक्तिशाली तूफान है। स्थानीय समयानुसार रात आठ बजे ‘माइकल’ कमजोर होकर श्रेणी-एक का तूफान रह गया और इस दौरान 90 मील प्रतिघंटे की अधिकतम रफ्तार से हवाएं चलीं।

मैक्सिको बीच से आई तस्वीरों और वीडियो में बर्बादी का मंजर नजर आ रहा है जहां पानी से भरी सड़कों पर घर तैरते दिखे, कुछ घर अपनी नींव से उखड़ गए जबकि कई घरों की छतें उड़ गईं। सड़कों पर मलबे का ढेर तैरता दिख रहा है।

करीब तीन घंटों तक तेज हवाओं और मूसलाधार बारिश के बाद पनामा सिटी की सड़कों पर चलना मुश्किल हो गया। जगह-जगह पेड़ उखड़े पड़े हैं, सेटेलाइट डिशें और ट्रैफिक लाइट उखड़ी पड़ी हैं।

व्हाइट हाउस में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को जानकारी देते हुए फेडरल इमरजेंसी मैनेजमेंट एजेंसी (एफईएमए) प्रमुख ब्रॉक लांग ने कहा कि माइकल फ्लोरिडा पेनहैंडल में 1851 के बाद से आने वाला सबसे भयंकर तूफान है। स्कॉट ने कहा कि इस भयानक तूफान के चलते तटों के साथ साथ घरों और अन्य सामान में भयंकर बर्बादी होने के आसार हैं। ट्रंप ने बुधवार को पेंसिलवेनिया में एक रैली के दौरान तूफान के रास्ते में आने वाले लोगों की सलामती के लिए दुआ की थी और कहा था कि वह जल्द फ्लोरिडा का दौरा करेंगे। लाखों लोगों से सुरक्षित स्थान पर जाने को कहा गया था।

गैडसन काउंटी बोर्ड की जनसंपर्क अधिकारी ओलिविया स्मिथ ने कहा कि तूफान में अभी एक व्यक्ति के मारे जाने की खबर है। राजधानी टालाहासी में युवक की मौत तूफान में टूटे पेड़ के नीचे दबने से हुई।

फ्लोरिडा में बनीं अधिकतर इमारतें श्रेणी 3 का तूफान झेलने के लिए ही सक्षम हैं। तट से टकराते वक्त माइकल श्रेणी 5 का तूफान था और हवाएं 157 मील प्रति घंटा की रफ्तार से चल रही थी।

अधिकारियों ने अलाबामा और जॉर्जिया में इस तूफान के कारण तबाही का अंदेशा जताया है। साथ ही इस तूफान के चलते उत्तर और दक्षिण कैरोलिनाम में भारी बारिश की चेतावनी भी जारी की है। कैरोलिना अभी पिछले महीने आए फ्लोरिना तूफान के परिणामों से उबरने की कोशिश कर रहा है। 14 सितंबर को आए इस तूफान से दर्जनों लोगों की मौत हुई थी और अरबों डॉलर की संपत्ति को नुकसान पहुंचा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here