इलाहाबाद बैंक को 3000 करोड़ देगी सरकार

0
21

केंद्र सरकार सार्वजनिक क्षेत्र के इलाहाबाद बैंक में 3,054 करोड़ रुपये का निवेश करने जा रही है। बैंक ने यह जानकारी दी कि इस पूंजी की एवज में सरकार को वरीय शेयर (प्रिफेरेंशियल शेयर) जारी किए जाएंगे। इलाहाबाद बैंक ने BSE को दिए अपने नोटिफिकेशन में कहा कि “सेबी (लिस्टिंग दायित्व और प्रकटीकरण आवश्यकताएं) विनियम, 2015 के संदर्भ में हम आपको सूचित करना चाहते हैं कि बैंक को भारत सरकार के वित्त मंत्रालय के वित्तीय सेवाओं के विभाग, 3054 करोड़ रुपये के नए निवेश के लिए संचार हुआ है। इसके एवज में बैंक भारत सरकार को इक्विटी शेयर ( स्पेशल सिक्योरिटी/बॉन्ड) जारी करेगी। बैंक को एक साल पहले 28.8 करोड़ रुपये के मुनाफे के मुकाबले 1,944 करोड़ रुपये का जून तिमाही में घाटा हुआ है। दरअसल बैंक कर्ज की वसूली नहीं कर पा रही है।

पहली तिमाही के दौरान बैंक द्वारा अर्जित ब्याज पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 4,148 करोड़ रुपये की तुलना में 4,600 करोड़ रुपये था। अप्रैल-जून तिमाही के दौरान प्रावधान और आकस्मिकता 2,763 करोड़ रुपये हो गई, जो पिछले साल की समान अवधि में 1,335 करोड़ रुपये थी। तिमाही के दौरान गैर-निष्पादित परिसंपत्तियों (एनपीए) के प्रावधान 2,950 करोड़ रुपये प्रति वर्ष 1,687 करोड़ रुपये के मुकाबले आए थे। सकल एनपीए पिछले तिमाही में 15.9 6% के मुकाबले कुल अग्रिमों का 15.97% था, जबकि शुद्ध एनपीए 8.04% के मुकाबले 7.32% पर थे।

देश के बाकी बैंकों की तरह इलाहाबाद बैंक 25 हजार 600 करोड़ का कर्ज वापस लेने की तैयारी कर रहा है। इलाहाबाद बैंक के प्रबंध निदेशक व मुख्य कार्यपालक बातचीत के दौरान कहा कि 25 हजार 600 करोड़ एनपीए जून 2018 तक का है। इसे वापस लेने की कवायद तेज हो गई है। इसके अलावा इलाहाबाद बैंक मुंबई में दो संपत्ति बेचकर अपनी पूंजी बढ़ाएगा। मुंबई में बैंक की दो जमीन जमीन खाली पड़ी है। कुम्भ 2019 के लिए इलाहाबाद बैंक को नोडल बैंक बनाया गया है। कुम्भ के सभी सरकारी वित्तीय लेनदेन इलाहाबाद बैंक के माध्यम से होंगे। कुम्भ मेले में सभी बैंकों की शाखाएं होंगी। सभी के एटीएम लगेंगे। विदेशी करेंसी का लेनदेन भी होगा। कुम्भ के लिए इलाहाबाद बैंक की तैयारी पूरी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here