पूर्वी चंपारण : भारत से ट्रेन खरीद कर जनकपुर-जयनगर के बीच चलायेगा नेपाल

0
76

रक्सौल : जयनगर (भारत) से जनकरपुर (नेपाल) के बीच मार्च से ट्रेन का परिचालन होना है. इस रूट पर रेल लाइन बिछाने और स्टेशनों का निर्माण कार्य लगभग पूरा हो चुका है. इन सब के बीच शुक्रवार को नेपाल सरकार की कैबिनेट ने भारत से ट्रेन खरीदने की स्वीकृति दे दी है. इसक साथ ही कई दिनों से ट्रेन परिचालन को लेकर चली आ रही अटकलों पर विराम लग गया है. पूर्व में चर्चा थी कि भारत से ट्रेन का रैक किराये पर लेकर चलाया जायेगा. लेकिन, अब नेपाल सरकार ने भारत से रैक की खरीद की सहमति दे दी है. ऐसे में आगामी मार्च से जयनगर से जनकपुर के बीच ट्रेन सेवा शुरू हो सकती है. पहले से जयनगर से नैरो गेज ट्रेन चलती थी, जिसको बंद कर अब ब्रॉड गेज में परिवर्तन किया गया है. जयनगर से कुर्था नेपाल तक लाइन बनाने का काम पूरा हो चुका है, जिस पर ट्रेनों का परिचालन शुरू होना है. नेपाल सरकार के कैबिनेट के द्वारा लिये गये निर्णयों को बताते हुए सरकार के प्रवक्ता सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री गोकुल बास्कोटा ने बताया कि सरकार ने रेलगाड़ी खरीदने की स्वीकृति दे दी है. हमलोगों ने निर्णय लिया है कि अपनी रेलगाड़ी खरीद करने के बाद ही ट्रेन सेवा संचालित होगी.

नेपाल में दूसरे रेल लिंक के तौर पर रक्सौल से काठमांडू के बीच ट्रेन सेवा की शुरुआत होगी. नेपाल रेलवे के साथ मिलकर कोंकण रेलवे की टीम इसका डीपीआर व सर्वे कर रही है. उम्मीद है कि आनेवाले दो से तीन साल के अंदर रक्सौल से काठमांडू तक रेल सेवा शुरू हो जायेगी. नेपाल रेलवे के रेल विभाग के वरिष्ठ मंडल अभियंता प्रकाश भक्त उपाध्याय ने बताया कि हमलोग नेपाल में रेलवे लिंक के विस्तार पर काम कर रह रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here