जन आकांक्षा रैली : दिल्ली से साथ-साथ आये राहुल व तेजस्वी सीट शेयरिंग को लेकर विमान में पकी खिचड़ी!

0
62
पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में रविवार को कांग्रेस की जन आकांक्षा रैली में कांग्रेस शासित छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश व राजस्थान के मुख्यमंत्रियों ने मोदी सरकार पर हमला बोला. रैली में आये लोगों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जुमलेबाजी से सतर्क रह कर केंद्र सरकार को उखाड़ फेंकने का आह्वान किया.
महागठबंधन को मौका दीजिए : कमलनाथ
मध्यप्रदेश के सीएम कमलनाथ ने कहा कि अगर जनता ठान लेे तो तीन माह में लोकसभा व विधानसभा में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी व राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद का झंडा लहरायेगा. महागठबंधन को मौका दीजिए.
रैली देश की तकदीर बदलेगी : गहलोत
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि यह रैली देश की तकदीर का फैसला करेगी. पंडित नेहरु, इंदिरा व राजीव इस ऐतिहासिक गांधी मैदान में संबोधन किया था. आज राहुल गांधी के संबोधन से लोगों को ऊर्जा मिलेगी.
सोच व विचारधारा की है लड़ाई : गाेहिल 
बिहार कांग्रेस प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने कहा कि भाजपा के खिलाफ सोच व विचारधारा की लड़ाई है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जो बोलते हैं वो करते हैं. तीन राज्यों में वादा के अनुसार किसानों का कर्ज माफ हुआ.
अगला पीएम राहुल गांधी बनें : मांझी
हम के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने कहा कि मोदी सरकार  दलित परिवार के साथ धोखा कर आरक्षण पर हमला कर रही है.  हमलोग चाहते हैं कि एकजुट होकर मोदी सरकार को हटा कर राहुल गांधी को पीएम बनाएं.
लोकतांत्रिक जनता दल के संरक्षक  शरद यादव ने कहा कि जुमलेबाज मोदी सरकार व जनादेश का अपमान करनेवाली नीतीश  सरकार को बदलना है. डॉ शकील अहमद बोले कि मोदी सरकार पूंजीपतियों के लिए  है. कार्यकारी अध्यक्ष कौकब कादरी ने कहा कि अगला चुनाव नहीं चुनौती  होगा.सांसद रंजीत रंजन ने ठगनेवाले मोदी सरकार को हटाने की बात कही. तारिक  अनवर ने कहा कि मोदी सरकार धर्म के नाम पर लोगों को बांटने में लगी है.  सीपीआई सचिव सत्यनारायण ने कहा कि फासीवादी खतरा बढ़ गया है. कांग्रेस  विधानमंडल दल के नेता सदानंद सिंह बोले कि राहुल गांधी जनता की आवाज है.
पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष अनिल शर्मा बोले कि कांग्रेस मुक्त देश नहीं, मोदी  मुक्त दिल्ली जरूर होगी.  विधायक शकील अहमद खां, अवधेश कुमार सिंह व   विजय  शंकर दूबे, चंदन यादव, कृष्णचंद्र यादव सहित अन्य नेताओं ने संबोधित किया.  सांसद अखिलेश सिंह व बिहार कांग्रेस सचिव वीरेंद्र सिंह राठौर ने मंच  संचालन किया. प्रदेश कांग्रेस कमेटी की ओर से राहुल गांधी को स्मृति चिंह  भेंट किया गया.
 
संवैधानिक संस्थाएं खतरे में : बघेल
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने को गंगा का बेटा कहते हैं, लेकिन गंगा की असली संतान आप लोग हैं. नरेंद्री मोदी के जुमलेबाजी से बचना होगा. राहुल के नेतृत्व में गठबंधन करके मोदी सरकार को भगाना है. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार में संवैधानिक संस्थाएं खतरे में हैं.राहुल का मतलब किसानों का सम्मान, गरीबों की चिंता है. छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार बनने पर वादा के अनुसार किसानों का छह हजार करोड़ ऋण माफ कर दिया.
2500 रुपये क्विंटल धान खरीद रहे हैं. 80 लाख मीट्रिक टन धान खरीद हुई. बस्तर में  किसानों से ली गयी चार हजार एकड़ वापस कर दी गयी. खुद को चौकीदार कहने वाले नरेंद्र मोदी राफेल सौदा में घोटालेबाज है.
दिल्ली से साथ-साथ आये राहुल व तेजस्वी सीट शेयरिंग को लेकर विमान में पकी खिचड़ी!
जन आकांक्षा रैली में शामिल होने के लिए पटना पहुंचे राहुल गांधी के साथ दिल्ली से ही राजद नेता तेजस्वी प्रसाद यादव भी थे. दोनों एक ही विमान से यहां पहुंचे थे. इससे यह कयास शुरू हो गया है कि कहीं विमान में ही दोनों नेताओं के बीच सीट शेयरिंग को लेकर कोई खिचड़ी तो नहीं पक गयी.
कहा जा रहा है कि विमान में दोनों नताओं के बीच सीट शेयरिंग पर भी चर्चा हुई है. महागठबंधन में सीट शेयरिंग को लेकर इन दिनों  कवायद चल रही है. सूत्रों के अनुसार कांग्रेस को छोड़ राजद के सभी सहयोगियों के साथ सीट को लेकर सहमति बन गयी है. कांग्रेस इस रैली का इंतजार कर रही थी.
एेसे भी चर्चा है कि इस सप्ताह महागठबंधन में सीट शेयरिंग को लेकर औपचारिक एलान हो सकता है. हवाई जहाज से दिल्ली से पटना तक के सफर में दोनों नेताओं के बीच लोकसभा चुनाव को लेकर ही चर्चा हुई.
 
ठंडा पड़ा जोश तो बजा दिया गाना ‘वादा तेरा वादा…’ फिर भर गया उत्साह
रैली में सुबह 11 बजे से ही नेताओं के भाषणों की शुरुआत हो गयी थी, लेकिन लोगों को जिसका इंतजार था, उसके लिए उनको लंबा इंतजार करना पड़ा. लगातार चल रहे नेताओं के भाषण में किसी की अभिव्यक्ति ऐसी नहीं थी कि गांधी मैदान में आयी भीड़ को जमा रख सके और लोगों में लगातार जोश का संचार होते रहे.
दोपहर 12 बजे से लेकर एक बजे तक एक ऐसा दौर भी आया कि नेताओं के भाषणों से बोझिल भीड़ पीछे से खिसकने लगी. फिर भीड़ के मंसूबे को भांपते हुए फिल्मी गाने बजा दिया गया. जैसे ही ‘वादा तेरा वादा …’ और ‘क्या हुआ तेरा वादा…’  गाने बजे, तो एक बार फिर से भीड़ में उत्साह की लहर लौट गयी.
गांधी मैदान की ओर जाने वाली सड़कों पर दिखे रैली समर्थकों के अलग-अलग रंग
रैली के दौरान गांधी मैदान की ओर जाने वाली सड़कों पर समर्थकों के अलग-अलग रंग दिखे. भीड़ कम और अधिक होती रही पर रैली के शुरू से समाप्ति तक फ्रेजर रोड, एग्जीबिशन रोड, बेली रोड, एसपी वर्मा  रोड, बुद्ध मार्ग और  स्टेशन रोड में रैली समर्थकों की मौजूदगी दिखी.
गांधी मैदान जाने वाली सड़कों पर सुबह नौ बजे से ही रैली समर्थकों का छिटपुट जत्था दिखने लगा. 11 बजते बजते उनकी संख्या बढ़ गयी और दोपहर 1 बजे तक यह जारी रही. रैली में आने वाले ज्यादातर लोग अपने स्थानीय नेता का फोटो लगा टीशर्ट पहने हुए थे. टीशर्ट के अागे वाले भाग में राहुल, सोनिया या प्रियंका के फोटो लगे थे, जबकि पीछे वाले भाग में  इन्हें बांटने वाले नेता का नाम और फोटो था.
रैली में मौजूद रहे मोकामा विधायक अनंत सिंह
पटना : कांग्रेस की जन आकांक्षा रैली में रविवार को मोकामा से निर्दलीय विधायक अनंत सिंह मौजूद रहे. लोगों की उम्मीद थी कि वे आयेंगे और मंच पर दिखेंगे. इसके विपरीत वे रैली में चुपचाप शामिल हुए. वे मंच पर नहीं पहुंचे, बल्कि मंच के सामने मैदान में बैठे रहे. सभी वक्ताओं को ध्यान से सुना.
बिहार को लेकर राहुल गांधी सजग : शाश्वत
पटना : कांग्रेस के राष्ट्रीय समन्यवक शाश्वत गौतम ने कहा कि जन आकांक्षा रैली से कांग्रेस ने आगामी लोकसभा चुनावों के लिए एक शानदार आगाज किया है.
रैली के बाद यह स्तिथि स्पष्ट हो गयी कि बिहार में महागठबंधन पूरी तैयारी के साथ भाजपा को हराने के लिए तैयार है. किसानों की कर्ज माफी, बिहार के चीनी मीलों का जीर्णोद्धार और पटना यूनिवर्सिटी को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा देने की बात कह कर कांग्रेस अध्यक्ष ने स्पष्ट संदेश दिया है कि कांग्रेस बिहार के शिक्षा, कृषि, रोजगार सृजन जैसे मुद्दों को लेकर सजग और गंभीर है.
गला खराब होने से नहीं बोले मुकेश सहनी
रैली में विकासशील इंसान पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश सहनी को संबोधित करना था. लेकिन, गला खराब होने की वजह से वे बोल नहीं पाये.
डीजे ट्रॉली पर चढ़ कर नारे लगा रहे थे लोग
रैली समर्थकों की कई टोलियां अपने साथ डीजे ट्रॉली लेकर आयी थी. इन ट्राॅलियों पर तीन-चार समर्थक खड़े हो कर नारे लगा रहे थे और उन्हें दोहराते पीछे-पीछे समर्थक चल रह थे. एक जत्था अपने साथ चार-पांच घुड़सवारों को भी लेकर आया था.
 
लालू प्रसाद के संदेश की दी गयी जानकारी
रैली में लालू प्रसाद व उपेंद्र कुशवाहा के संदेश की जानकारी दी गयी. प्रदेश  कांग्रेस अध्यक्ष डॉ मदन मोहन झा ने मंच पर बैठे नेताओं का स्वागत किया. राहुल गांधी जब मंच पर आये तो सहदेई बुजुर्ग में हुए रेल हादसे में मारे गये लोगों को श्रद्धांजलि देते सभी नेताओ ने हुए एक मिनट का मौन रखा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.