ममता बनर्जी को पीएम मोदी की चुनौती, कहा- शाम को मेरी रैली है, देखते हैं दीदी होने देती हैं या नहीं

0
28

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के मऊ में एक रैली को संबोधित करते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और एसपी-बीएसपी गठबंधन पर जमकर निशाना साधा. ममता बनर्जी को चुनौती देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आज शाम को भी मेरी रैली है. देखते हैं कि दमदम में दीदी मेरी रैली होने देती हैं या नहीं. इसके अलावा एसपी प्रमुख अखिलेश यादव और बीएसपी प्रमुख मायावती को लेकर मोदी ने कहा कि बुआ-बबुआ ने बंगले बनाए और गरीबों से दूर हो गए. उनका मकसद सिर्फ जाति के नाम पर सत्ता हासिल करना है.

ममता पर पीएम मोदी का निशाना
लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण के चुनाव प्रचार के लिए मऊ पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि ममता बनर्जी यूपी बिहार के लोगों को बाहरी बता रही हैं. उन्होंने कहा, “यूपी में सभा के बाद मैं आज एक बार फिर बंगाल जाने वाला हूं. बंगाल की मुख्यमंत्री 130 करोड़ लोगों के आशीर्वाद से चुने गए प्रधानमंत्री को अपना प्रधानमंत्री नहीं मानतीं.”

पीएम मोदी ने कहा कि ममता पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को प्रधानमंत्री मानती हैं, लेकिन हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री को प्रधानमंत्री नहीं मानती. इसके अलावा उन्होंने टीएमसी पर अराजकता का आरोप लगाते हुए कहा कि जब ठाकुर नगर में उनकी रैली थी तो ऐसी हालत कर दी गई थी कि उन्हें अपना संबोधन बीच में छोड़ना पड़ा था.

पीएम मोदी ने ममता पर सत्ता के नशे में लोकतंत्र विरोधी काम करने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा, “दीदी का रवैया मैं बहुत दिनों से देख रहा हूं, अब पूरा देश देख रहा है. आज शाम को कोलकाता के दमदम में भी मेरी रैली है. देखते हैं दीदी ये रैली होने देती हैं या नहीं. उसका चले तो वो हमारे हेलिकॉप्टर को भी उतरने नहीं देंगी.”

पश्चिम बंगाल में अमित शाह की रैली के दोरान हुई हिंसा पर पीएम मोदी ने कहा, “टीएमसी के गुंडों की दादागिरी परसों रात भी देखने को मिली. भाई अमित शाह की रैली के दौरान टीएमसी के गुंडों ने ईश्वरचंद्र विद्यासागर की मूर्ति को तोड़ दिया. ऐसे करने वालों को कठोर से कठोर सज़ा दी जानी चाहिए.”

पीएम मोदी ने रैली के दौरान ये भी कहा कि उनकी सरकार जहां पर ईश्वरचंद्र विद्यासागर की मूर्ति तोड़ी गई है, वहीं पर पंचधातु की एक भव्य मूर्ति स्थापित करेगी और टीएमसी के गुंडों को जवाब देगी. उन्होंने कहा कि ईश्वरचंद्र विद्यासागर सिर्फ बंगाल के ही नही बल्कि भारत के महानविभूति हैं. पीएम ने कहा कि वो सिर्फ महान समाज सुधाकर और शिक्षा शास्त्री ही नहीं बल्कि गरीबों और दलितों के संरक्षक भी थे. प्रधानमंत्री ने ये भी दावा किया की बीजेपी के मूल में ही बंगाल की संस्कृति और भक्ति है.

एसपी-बीएसपी गठबंधन पर भी बरसे 

मऊ में रैली के दौरान पीएम मोदी ने घोसी से एसपी-बीएसपी उम्मीदवार पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, “सपा-बसा गठबंधन ने यहां से ऐसे उम्मीदवार को टिकट दिया है जो बलात्कार के आरोप में भगोड़ा है. समाजवादी पार्टी का तो इतिहास यूपी के लोग जानते हैं, लेकिन बहन जी (मायावती) क्या आप ऐसे उम्मीदवारों के लिए वोट मांगेंगी. सपा के समय यूपी में बेटियों की क्या स्थिति थी ये सब जानते हैं, लेकिन बहन जी महिला सुरक्षा को लेकर आपका बर्ताव भी अब सवालों को घेरे में है.”

राजस्थान के अलवर गैंगरेप को लेकर भी मोदी ने मायावती को घेरने की कोशिश की. उन्होंने कहा कि राजस्थान में बहन जी (मायावती) का कांग्रेस की सरकार को समर्थन है. उन्होंने कहा, “कांग्रेस की सरकार ने चुनाव को देखते हुए उस दलित बेटी के साथ हुए इस राक्षसी अपराध को छिपाने की कोशिश की. बहन जी (मायावती) सब जानती हैं. लेकिन कांग्रेस सरकार से समर्थन वापस लेने की बजाय वो मोदी को गालियां देने में जुटी हैं.”
एसपी-बीएसपी गठबंधन पर मोदी ने कहा कि मोदी हटाओ इनका बहाना था, अपना भ्रष्टाचार हटाना था. हमारी सरकार गरीबों की सेवा में लगी हुई है. बुआ-बबुआ ने बंगले बनाए और गरीबों से दूर हो गए. उन्होने ये भी कहा कि यूपी ने विरोधियों का गुणा गणित बिगाड़ दिया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.