हमें कान्स में सशक्त विषयवस्तु वाली फिल्मों की आवश्यकता : भंडारकर

0
22

कान्स, 72वें कान्स फिल्म समारोह में मौजूद मधुर भंडारकर ने कहा कि कान्स जैसे समारोह में दृश्यमान नुमाइंदगी के लिए भारतीय फिल्मनिर्माओं द्वारा ऐसे फिल्मों के निर्माण की आवश्यकता है जो कि वास्तविक विषयों पर आधारित हो।इस साल कान्स फिल्म समारोह में प्रतियोगिता श्रेणियों में फिल्मों के संदर्भ में भारत का प्रतिनिधित्व शून्य रहा।

गाला के इंडियन पवेलियन में भंडारकर फिल्म निर्माता रवैल से भारतीय सिनेमा की वर्तमान स्थिति और इसके आगे की बातचीत की।

‘पेज 3’, ‘ट्रैफिक सिंग्नल’ और ‘फैशन’ जैसी फिल्मों से मशहूर भंडारकर ने कहा, “यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि यहां भारतीय सिनेमा नहीं है। उन्हें मजबूत विषयवस्तु की तलाश है..उन्होंने (समारोह के एक अधिकारी जिनसे मधुर भंडारकर की मुलाकात हुई) मुझे बताया कि कान्स में दर्शक काफी भिन्न होते हैं और इसीलिए उन्हें सबसे अच्छी फिल्मों का ही चयन करना पड़ता है।”

भंडारकर ने आगे कहा, “हमें सत्यजीत रे और ऋत्विक घटक के फिल्मों के जैसी सशक्त विषयवस्तु की जरूरत है, जो कान्स के मूल्य के अनुरुप हो..यह किसी फिल्म निर्माता के लिए बेहद आवश्यक है। अधिक से अधिक लोगों को ऐसी सामग्री और विषयों की ओर जाना चाहिए जो कि वास्तविक या सामाजिक घटनाओं पर आधारित हो क्योंकि लोग यहां इसी तरह की फिल्में देखना चाहते हैं..मुझे लगता है कि पिछले छह या सात वर्षो में इस पर हमने ध्यान नहीं दिया है।”

भंडारकर ने यह भी कहा, “हमारे देश के स्थानीय मुद्दों के विषय पर भी फिल्मों का निर्माण किया जाना चाहिए।”

भंडारकर ने कहा कि सरकार फिल्म उद्योग के लिए एक आशाजनक दृष्टिकोण रखती है।

अपनी बात को आगे जारी रखते हुए भंडारकर ने कहा, “मैंने सूचना और प्रसारण मंत्री राज्यवर्धन राठौर जी से बहुत बातचीत की है और भारतीय सिनेमा को विश्व स्तर पर आगे बढ़ाने के मामले में वे काफी सकारात्मक दिखे।”

भंडारकर ने इस बातचीत में कहा, “भारत फिल्म निर्माण के क्षेत्र में सबसे बड़ा राष्ट्र है इसलिए वे जिन चीजों पर जोर देना चाहते हैं उन्हें लेकर मैं बहुत सकारात्मक हूं। वे सहयोग के लिए तैयार हैं, वे चाहते हैं कि फिल्म समारोहों में और अधिक तरक्की हो, वे चाहते हैं कि हमारी फिल्मों को देश के बाहर लोग अधिक से अधिक देखें।”

इस बातचीत में भंडारकर और रवैल, दोनों ने इस बातचीत में क्षेत्रीय फिल्मों के महत्व और उनकी गुणवत्ता पर भी जोर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.