एयरपोर्ट पर अब नहीं चोरी होगा आपका सामान, कन्वेयर बेल्ट से लगेज लेने में भी होगी आसानी

0
45

नई दिल्ली, हवाई यात्रा करने वालों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है। हवाई यात्रा के दौरान यात्रियों को अब अपने सामान की चिंता नहीं करनी होगी। एयरपोर्ट पर अब उनका सामान चोरी नहीं हो सकेगा। इतना ही नहीं यात्रा खत्म होने के बाद हवाई यात्रियों को अब कन्वेयर बेल्ट से सामान लेने में भी आसानी होगी। देश भर के एयरपोर्ट पर जल्द ही इस तरह की सुविधा शुरू होने जा रही है। दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के टर्मिनल तीन से इसकी शुरूआत हो रही है।

शोधकर्ताओं का दावा है कि उन्होंने एक ऐसा स्मार्ट सिस्टम विकसित किया है, जो एयरपोर्ट से सामान की चोरी रोक सकता है। साथ ही ये सिस्टम कन्वेयर बेल्ट से लगेज कलेक्ट करने में भी यात्रियों को सुविधा प्रदान करता है। इसके लिए फ्लाईट पहुंचने का अनुमानित समय देना होता है। दि नोवेल सॉल्यूशन नाम के इस सिस्टम को पंजाब की लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी (LPU) की एक टीम द्वारा तैयार किया गया है।

इस सिस्टम की मदद से कोई व्यक्ति किसी दूसरे का सामान लेकर एयरपोर्ट का एक्जिट गेट पार नहीं कर सकता। इतना ही नहीं अगर यात्री एयरपोर्ट पर अपना सामान भूल जाता है तो ये सिस्टम उसे छूटे हुए सामान के बारे में भी अलर्ट करेगा। शोधकर्ताओं के अनुसार उन्होंने अनुभव किया है कि एयरपोर्ट पर बेहद सख्त सुरक्षा इंतजाम होने के बावजूद सामान चोरी होने या खोने की शिकायतें बहुत आम हैं। एयरपोर्ट पर डिपार्चर से पहले लगेज कलेक्शन की सख्त प्रक्रिया होती है, लेकिन इस दौरान सामान की सुरक्षा और चोरी से बचाने के उपायों पर बहुत कम ध्यान दिया जाता है।

इसके अलावा एयरपोर्ट के पास ऐसी कोई सुविधा भी नहीं होती है कि वह खोए हुए या चोरी हो चुके सामान को लोकेट कर सके। इसके लिए यात्रियों को लंबी कतारों में लगना पड़ता है और अक्सर उन्हें काफी देर तक अपना सामान कन्वेयर बेल्ट पर आने का इंतजार करना पड़ता है।

समाचार एजेंसी पीटीआई से बातचीत में एलपीयू यूनिवर्सिटी के असिस्टेंट प्रोफेसर गुरजोत सिंह गाबा ने बताया कि हमारे शोध के दौरान हमें ऐसा कोई सिस्टम नहीं मिला जो हमारे सिस्टम की तरह हो। हमारा सिस्टम इन समस्याओं से निपटने में असकारक है। हवाई यात्रा के लिए एक मोटी रकम खर्च करने वाले यात्रियों को इस तरह की तकनीकी सुविधा मिलनी ही चाहिए। उनका सामान चोरी होने से बचाया जाना चाहिए और उन्हें एयरपोर्ट पर अपना सामान कलेक्ट करने में भी आसानी होनी चाहिए।

उड्डयन क्षेत्र की आईटी विशेषज्ञ कंपनी सीटा (SITA) के अनुसार दुनिया भर के एयरपोर्ट पर प्रति मिनट 40 बैग खोते या चोरी होते हैं। 2018 में दुनिया भर के एयरपोर्ट पर 24.8 मिलियन (248 लाख) बैग चोरी हुए या खो गए। इसकी वजह से एयर ट्रांसपोर्ट इंडस्ट्री को कुल 2.4 बिलियन यूएस डॉलर (166.65 अरब रुपये) का नुकसान झेलना पड़ा। प्रत्येक वर्ष एयरपोर्ट अथॉरिटी को बैगेज खोने के अरबो डॉलर के क्लेम प्राप्त होते हैं। साथ ही इससे उनकी प्रतिष्ठा भी धूमिल होती है।

ऐसे में एलपीयू द्वारा इजाद किया गया नया सिस्टम इस सभी समस्याओं से छुटकारा दिला सकता है। यात्रियों के साथ ही ये सिस्टम एयरपोर्ट अथॉरिटीज के लिए भी बेहद फायदेमंद है। भीड़भाड़ वाले एयरपोर्ट पर यात्रियों को लंबी कतारें झेलनी पड़ती हैं। उन्हें अपना सामान कलेक्ट करने के लिए भी लंबी लाइनों का सामना करना पड़ता है। बैगेज लेने के लिए भी यात्रियों को कन्वेयर बेल्ट के चारों तरफ काफी देर तक खड़े रहना पड़ता है। एयरपोर्ट पर प्रवेश के दौरान तो यात्रियों को कई सुरक्षा चक्र से गुजरना पड़ता है, लेकिन बाहर निकलने वक्त ये सुनिश्चित करने वाला कोई नहीं होता है कि सही व्यक्ति, सही सामान लेकर जा रहा है या नहीं।

एलपीयू यूनिवर्सिटी के बीटेक छात्र पवन कुमार राघव के अनुसार, प्रस्तावित सिस्टम इस तरह की समस्याओं से निपटने में मदद करता है। इस सिस्टम में हम पैसेंजर डाटाबेस के साथ बार कोड और बार कोड स्कैनर का प्रयोग करते हैं, जो लॉजिस्टिक के लिए सबसे ज्यादा प्रयोग होती है। इस सिस्टम की मदद से कन्वेयर बेल्ट पर बैगेज को ट्रैक किया जा सकता है और यात्रियों को आगमन (Arrival) पर उनके सामान की सूचना कन्वेयर बेल्ट के पास लगी एलसीडी के जरिए दी जाती है। बाहर निकलते वक्त, निकास गेट पर लगा हमारा स्मार्ट सिस्टम बैगेज और उसके मालिक की पहचान व सत्यापन करते हैं। इस सिस्टम को तैयार करने वाले छात्रों की टीम में पवन कुमार, विकास सिंह और दीपक सिंह बिष्ट शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.