बाजार में मजबूत ब्रांड फॉलोइंग बनाने के लक्ष्य के साथ आ रही है OPPO की लेटेस्ट K सीरीज

0
38

ग्लोबल स्मार्टफोन निर्माता OPPO अपने ग्राहकों के लिए कभी न भूलने वाला डिजिटल एक्सपीरिएंस बनाने के लिए शानदार तकनीक का इस्तेमाल करने में सबसे आगे रहा है. उनके इस लक्ष्य को पाने की यात्रा में विभिन्न डिस्ट्रीब्यूशन चैनल साथ दे रहे हैं. इसके अलावा अग्रणी ई-कॉमर्स ब्रांड्स जैसे फ्लिपकार्ट, अमेजन, पेटीएम, स्नैपडील, और टाटा क्लिक के साथ पार्टनरशिप के जरिए भी OPPO ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही ब्रांड क्षेत्र में आला दर्जा हासिल करने की ओग आगे बढ़ रहा है.

इस रणनीति पर काम करते हुए कंपनी विस्तार कर रही है और इसके तहत OPPO ने अमेजन को अपनी आने वाली OPPO K3 के लिए पार्टनर चुना है जिससे इसका ऑनलाइन प्रोडक्ट पोर्टफोलियो और मजबूत हो सके और लोगों के दिमाग में इसकी गहरी पैठ हो सके.

जैसे-जैसे ग्राहकों का रुझान ऑनलाइन खरीदारी की ओर बढ़ रहा है डिजिटल स्पेस ब्रांडों को अपने दर्शकों से जुड़ने के लिए आकर्षक माध्यम प्रदान करता है और ग्राहकों के इस ट्रेंड को भुनाने में सक्षम साबित हो रहा है. OPPO जैसी स्मार्टफोन कंपनियां भी इसका अपवाद नहीं हैं. टेकआर्क की एक रिपोर्ट ये दिखाती है कि स्मार्टफोन्स ब्रांड्स साल 2019 में डिजिटल मार्केटिंग पर 330 करोड़ रुपये से भी ज्यादा का खर्च कर रहे हैं जो कि पिछले साल के मुकाबले 20 फीसदी ग्रोथ साबित हो रही है.

OPPO k सीरीज न केवल अपने ग्राहकों के लिए शानदार तकनीक का वादा करती है बल्कि कंपनी की रणनीति है कि ये अपने टार्गेट ऑडिएंस जो कि मुख्य रूप से 18 और 34 साल के आयु वर्ग के हैं उनको और ज्यादा खरीदारी के लिए प्रेरित कर सके. इस आयु वर्ग के ग्राहकों ने पहले भी कंपनी के लिए कमाल किए हैं, खासकर OPPO k1 सीरीज के लॉन्च के दौरान. OPPO ब्रांड ने दूसरे ब्रांड के ग्राहकों को भी अपनी ओर खींचा है. इसके जरिए कंपनी ने ब्रांड वैल्यू क्रिएट की है और इसके जरिए ज्यादा से ज्यादा ग्राहकों को कंपनी अपनी ओर खींच रही है और स्मार्टफोन मार्केट में अपनी बढ़त बरकरार रख रही है.

इसके अलावा दूसरे ब्रांड से तुलना की जाए तो एक तरफ वो अपनी हर डिवाइस की कीमत के आधार पर फोन के स्पेस्फिकेशन तय करते हैं, वहीं OPPO ने हमेशा सुनिश्चित किया है कि वो अपनी हर तरह की फ्लैगशिप डिवाइस में हाई-एंड फीचर्स दे और यूजर्स को अल्टीमेट एक्सपीरिएंस दे सके. इसके जरिए कंपनी ये पक्का करती है कि इसके प्रोडक्ट्स के लिए जो मांग आए वो हर तरफ से और हर टियर से आए. OPPO k3 के जरिए भी कंपनी यही रणनीति अपना रही है. इस फोन में कंपनी 6.5 इंच एमोलेड फुल स्क्रीन, इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर 2.0, vooc 3.0 विद टाइप सी, राइसिंग कैमरा, अलग से दिया हुआ हेडफोन जैक, डॉल्बी एटम्स, स्नैपड्रैगन 710 और इसके अलावा भी बहुत कुछ दे रही है और वो केवल एक ही अफोर्डेबल डिवाइस में.

ब्रांड का फोकस हमेशा से प्रोडक्ट और टेक्नोलॉजी डेवलपमेंट पर रहा है जिससे कि ग्राहकों के आला सेगमेंट को टार्गेट किया जा सके. जहां तक मार्केट शेयर की बात है तो शक्तिशाली बैटरी लाइफ, खूबसूरत डिस्पले और और शानदार कैमरा के जरिए OPPO ने अपनी शीर्ष पोजीशन को बरकरार रखा है. इसी कड़ी में अब OPPO k3 के जरिए ब्रांड यूजर एक्सपीरिएंस को और अधिक शानदार बनाने के लिए तैयार है और उस वादे को पूरा करने के लिए भी प्रतिबद्ध है कि वो अपने टेक-सेवी ग्राहकों को वो सब मुहैया कराएगी जो वो चाहते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.