प्रधानमंत्री, मंत्रियों तक की गाडि़यों से हटेगी लालबत्ती, 1 मई को खत्म करने का निर्णय

0
1100

सरकार ने लालबत्ती की वीआईपी संस्कृति समाप्त करने का आज फैसला किया और इसके तहत प्रधानमंत्री समेत मंत्रियों और बड़े अधिकारियों के वाहनों से लालबत्ती एक मई से हटा ली जाएगी। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने आज यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक के निर्णय की जानकारी देते हुए कहा, केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने एक ऐतिहासिक फैसले में एक मई से आपात सेवाओं से जुड़े वाहनों को छोड़कर सभी वाहनों से लाल-बत्ती हटाने का फैसला किया है। मंत्रिमंडल की बैठक के बाद गडकरी ने अपने वाहन से लालबत्ती हटा दी। ऐसा करने वाले वह पहले मंत्री हैं। मंत्री ने कहा कि यह सरकार आम लोगों की सरकार है इसलिये उसने लालबत्ती और सायरन की वीआईपी संस्कृति समाप्त करने का फैसला किया है। सरकार ने देश में लोकतांत्रिक मूल्यों को मजबूत करने के दृष्टिकोण से यह फैसला किया है। गडकरी ने इस निर्णय के पीछे कारण बताते हुए कहा, सरकार की राय है कि वाहनों पर लालबत्ती वीआईपी संस्कृति का निशान है और इसका लोकतांत्रिक देशों में कोई स्थान नहीं है। इसकी कोई प्रासंगिकता नहीं है। उन्होंने कहा कि यह निर्णय देश में स्वस्थ लोकतांत्रिक मूल्यों को मजबूत करने के लिए यह निर्णय लिया गया है। मंत्री ने कहा कि लाल बत्ती लगी गाडि़यों के सायर से लोगों को गुस्सा आने लगा था। एम्बुलेंस, अग्निशमन सेवा आदि जैसे आपात और राहत सेवा से जुड़े वाहनों पर लालबत्ती की अनुमति होगी। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय कानून में इसके लिये जरूरी प्रावधान करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.