चलती बस में आग, आठ जिंदा जले, पटना से जा रही थी शेखपुरा

0
1512

पटना/बिहारशरीफ : गुरुवार को पटना से शेखपुरा जा रही एक निजी बस में हरनौत बाजार में आग लग गयी, जिसमें आठ यात्री जिंदा जल गये. प्रशासन ने इसकी पुष्टि की है. हालांकि, स्थानीय लोगों का कहना है कि मरनेवालों की संख्या अधिक हो सकती है, क्योंकि बस में एक ही दरवाजा होने के कारण लोग बाहर नहीं निकल पाये.

मरनेवालों में एक बच्चा भी है. 10 से अधिक यात्री घायल हैं, जिन्हें बिहारशरीफ सदर अस्पताल में भरती कराया गया है. पटना के मीठापुर बस स्टैंड से बाबा रथ बस दोपहर साढ़े तीन बजे शेखपुरा के लिए खुली थी. शाम साढ़े पांच बजे यह हरनौत बाजार पहुंची. प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार वहां बस का ठहराव नहीं था.

बाजार में भीड़ अधिक होने के कारण बस धीरे-धीरे चल रही थी. जैसे ही वह थाना मोड़ के पास पहुंची, अचानक बस के अगले हिस्से से आग लपटें निकलने लगीं. जैसे ही बस के ड्राइवर की नजर उस पर पड़ी, उसने बस रोक दी. लेकिन, पल भर में आग ने पूरी बस को अपनी चपेट में ले लिया. ड्राइवर और खलासी कूद कर फरार हो गये. जिसने भी इस घटना के बारे में सुना, वह मौके पर दौड़ पड़ा. थोड़ी ही देर में मौके पर सैकड़ों लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गयी.

लेकिन, धू-धू कर जल रही बस के करीब जाने की कोई हिम्मत नहीं कर पा रहा था. थोड़ी ही देर में पुलिस प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची. इसके बाद बचाव कार्य शुरू हुआ. कई यात्रियों ने खिड़कियों से कूद कर जान बतायी. लेकिन, जो यात्री बस के अंदर रह गये, उनके शव सीटों पर इस कद जल गये थे कि कोई पहचान में नहीं आ रहा था. घटना के बाद इलाके में जाम जैसे हालात हो गये. बस में करीब 50 लोग सवार होने की बात कही जा रही है. स्थानीय वालों ने खुद आग पर काबू पाने की कोशिश की है. पटना प्रक्षेत्र के डीआइजी राजेश कुमार, नालंदा के डीएम डाॅ त्यागराजन व एसपी कुमार आशीष ने संयुक्त रूप से अब तक आठ लोगों के मरने की पुष्टि की है, जिनमें एक बच्चा भी है.

पुलिस को खदेड़ा

घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस को शुरू में वहां मौजूद असामाजिक तत्वों ने खदेड़ दिया. बाद में बड़ी संख्या में पुलिस के जवान वहां पहुचे, तब जाकर स्थिति सामान्य हुई. डीएम डॉ त्याग राजन एसएम, एसपी कुमार आशीष, एसडीओ सुधीर कुमार दल-बल के साथ मौके पर कैंप किये हुए हैं.

घायलों की सूची
1.सूरज कुमार, कैला गांव, बिंद थाना क्षेत्र के
2.सूरज की मां मालो देवी
3.नंदे प्रसाद
4.मोना कुमारी, पटेल नगर, बिहारशरीफ
6.फोटो कुमारी, खरूआरा
7.संगीता कुमारी,पटेल नगर, बिहारशरीफ
8.मालो देवी, आवआरा गांव, शेखपुरा
9.मालती देवी,अरिअरी अरूमारा
10.मुकेश कुमार, अरिअरी अरूआरा

नालंदा के डीएम बोले, कार्बाइड से लगी आग

नालंदा के डीएम डॉ त्याग राजन एसएम ने बताया कि बस के इंजन के पास बोरे में फल पकाने वाला रसायन कैल्सियम कार्बाइड रखा हुआ था, जिसके कारण यह हादसा हुआ है. ये कार्बाइड भरे बोरे पटना के खुसरूपुर के पास बस में रखे गये थे. जल्द बस खुलने के चक्कर में कार्बाइड से भरे पांच-छह बोरे इंजन के पास ही रख दिये गये थे. इन बोरे में अचानक आग लगने से केबिन के पास खड़े यात्री बस के पीछे की ओर भागे. इधर, पटना के मीठापुर बस स्टैंड पर बाबा रथ बस सर्विस के एक कर्मचारी ने बताया कि बस के गेट के पास मौजूद फ्यूज बॉक्स में सबसे पहले आग लगी.

िवशेषज्ञ बोले, कार्बाइड अपने आप नहीं जल सकता

पटना साइंस कॉलेज के केमिस्ट्री विभाग के प्रोेफेसर डॉ रणधीर कुमार ने बताया कि कार्बाइड महज 12 से 13% ज्वलनशील है. इंजन के पास अगर इसे रखा गया था, तो इंजन से चिनगारी निकलने पर ही आग लगी होगी. यह रासायनिक पदार्थ आग को सपोर्ट कर दिया होगा. वैसे कार्बाइड से आग नहीं लग सकती है.

हेल्पलाइन नंबर जारी

प्रभारी पदाधिकारी, जिला आपदा प्रबंधन शाखा, बीडीओ हरनौत

9431818033, प्रभारी पदाधिकारी,जिला आपदा प्रबंधन शाखा 9939978075, सीओ, हरनौत 8544412693
शेखपुरा के तीन मृतकों की हुई पहचान

हादसे में अब तक शेखपुरा के तीन लोगों की मौत होने की सूचना मिली है. सूचना के मुताबिक शेखपुरा प्रखंड के पैन डिहरी गांव निवासी कपिल पासवान के पुत्र भोला पासवान, अरियारी की विमान पंचायत के अरुआरा गांव निवासी सुबोध यादव की 40 वर्षीया पत्नी मालो देवी और साला व ऐफनी पंचायत के दतुआरा गांव निवासी जयराम यादव की मौत हो गयी. हादसे की खबर मिलते ही पीड़ित सुबोध यादव घटनास्थल पर रवाना हो गये. उन्होंने बताया कि हादसे के बाद उनकी पत्नी और साले को अस्पताल में भरती कराया गया, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया.

शीशा तोड़ निकले

चिकनी गांव के हरि सिंह ने बताया कि मैं खिड़की का शीशा तोड़ बाहर निकल पाया. बस में सीटों के अलावा बड़ी संख्या में यात्री खड़े थे. करीब 50 सवार थे. बस जैसे ही हरनौत के थाना मोड़ के पास पहुंची, इंजन के पास रखे चार-पांच बोरों में अचानक आग लग गयी. इंजन के पास ही गेट था, लेिकन आग की लपटे तेज होने से वहां से यात्रियों का निकलना मुश्किल हो रहा था. इसके कारण यात्री खिड़कियों का शीशा तोड़ कर भागने लगे.

सीएम ने दिया जांच का आदेश चार-चार लाख मुआवजे का एलान

पटना : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नालंदा जिले के हरनौत बाजार के पास पटना से शेखपुरा जा रही बस में आग लगने से एक बच्चा सहित आठ लोगों की मौत पर गहरा शोक व्यक्त किया है.

मुख्यमंत्री ने घटना के कारणों की जांच का आदेश दिया है. साथ ही मारे गये सभी लोगों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की है. मुख्यमंत्री ने घायलों का निशुल्क समुचित इलाज कराने का भी निर्देश दिया है और उनके जल्द स्वस्थ होने की ईश्वर से कामना की है. मुख्यमंत्री ने हादसे को अत्यंत दुखद बताया और दुख की इस घड़ी में शोक संतप्त परिजनों को धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.