भारत में नहीं दिखा चांद, कल से रमजान

0
1262

रविवार से मुसलमान भाई रखेंगे रमजान उल मुबारक का पहला रोजा
बिहार, झारखंड व ओड़िशा के मुसलमानों की सबसे बड़ी एदारा इमारते शरिया, प्रसिद्ध खानकाह- ए- मुजिबिया समेत सूबे के प्रमुख मुसलिम धार्मिक व सामाजिक संस्थानों ने शुक्रवार को एलान किया है कि बिहार समेत पूरे भारत में कहीं भी रमजान उल मुबारक का चांद नहीं नजर आया है. अब मुसलमान भाई रविवार से पाक व मुकद्दस माहे रमजान का पहला रोजा रखेंगे. वहीं, सऊदी अरब में रमजान उल मुबारक का चांद नजर आया और वहां शनिवार से ही पाक माहे रमजान का महीना शुरू हो गया. मौलाना अब्दुल जलील कासमी, काजी-ए-शरियत मरकजी दारुल क़ज़ा, इमारते शरिया , बिहार, झारखंड व ओड़िशा एवं खानकाह-ए-मुजिबिया के प्रबंधक हजरत मौलाना सैयद शाह मो मिन्हाज मुजीबी कादरी ने एलान करते हुए कहा कि पटना सहित देश के किसी भी हिस्से से चांद देखे जाने की सूचना नहीं मिली है. ऐसे में अब शनिवार को रमजान का चांद होगा और 28 मई रविवार से रहमतो व बरकतों का महीना रमजान उल मुबारक शुरू हो जायेगा. यानी रविवार से मुसलमान भाई रमजान उल मुबारक का अपना पहला रोजा रखेंगे. इस एलान की तसदीक इमारत अहले हदीस अमीर मौलाना गाजी और शिया रुयते हेलाल कमेटी के सदर मौलाना सैयद असद रजा ने भी की है. इससे पहले राजधानी पटना सहित तमाम मुसलिम इलाके में लोग देर शाम तक अपने अपने घरों की छतों पर से चांद देखे जाने की कोशिश करते रहे, लेकिन उन्हें निराशा ही हाथ लगी.
इसके बाद लोग टीवी और एक-दूसरे से मोबाइल के जरिये चांद के एलान के बारे में तसदीक का प्रयास करने में लगे रहे. देर शाम जब मुसलिम ऐदारों ने चांद नहीं देखे जाने और रमजान का पहला रोजा रविवार से रखने का एलान किया, तो लोगों ने एक-दूसरे को मुबारकवाद देना शुरू कर दिया. रमजान को लेकर लोगों में उत्साह और उमंग का माहौल है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.