कश्मीर: अनंतनाग में सेना के काफिले पर हमला, 2 जवान शहीद, 4 जख्मी

0
654

श्रीनगर

पुलवामा में सेना के काफिले पर शनिवार को आंतकियों ने हमला कर दिया। इसमें 2 जवान शहीद हो गए, जबकि 4 जवान घायल हो गए। यह वारदात अनंतनाग के काजीगुंड में हुई। एक सेना के अधिकारी ने बताया कि एके-47 राइफलों से लैस आतंकियों ने सुबह सवा 11 बजे के करीब श्रीनगर से तकरीबन 70 किलोमीटर दूर काजीगुंड में सेना के काफिले पर हमला किया। हमले में सेना के 6 जवान घायल हुए। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया। इलाज के दौरान 2 जवान शहीद हो गए। आज ही गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सुरक्षा के मुद्दे पर सरकार के तीन साल के कामकाज का लेखाजोखा पेश किया।

सीमा पर भी तनाव जारी

इससे पहले, जम्मू एवं कश्मीर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर भारत और पाकिस्तान के जवानों के बीच शनिवार को भारी गोलीबारी हुई। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल मनीष मेहता ने बताया, ‘पाकिस्तानी सेना ने पुंछ जिले के कृष्णा घाटी सेक्टर में सुबह 9.20 बजे गोलीबारी शुरू की।’ एक अन्य घटना में पाकिस्तानी सुरक्षाबलों ने शुक्रवार रात से पुंछ के पास संघर्षविराम का उल्लंघन किया।

मेहता ने बताया, ‘पाकिस्तानी सेना ने शुक्रवार रात 11 बजे से पुंछ में छोटे और स्वचालित हथियारों से हमला किया। 82एमएम और 120 एमएम के मोर्टार दागे।’ वहीं, भारतीय सेना ने इन हमलों का मुंहतोड़ जवाब दिया। बता दें कि पाक की फायरिंग में घायल होने के बाद बीआरओ के कर्मचारी परवेज अहमद ने शुक्रवार को दम तोड़ दिया। सीमा सुरक्षा बल के हेड कॉन्स्टेबल और बीआरओ के कर्मचारी भी गुरुवार को इस हमले में घायल हुए थे। वहीं, भारतीय सेना ने बताया था कि जवाबी कार्रवाई में 5 पाकिस्तानी सैनिकों को मार गिराया गया था।

हमला ऐसे वक्त में हुआ है, जब सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत जम्मू कश्मीर के राज्यपाल एन एन वोहरा से शुक्रवार रात को मिले और उन्होंने राज्य में आंतरिक और बाहरी सुरक्षा प्रबंधन के मुद्दों पर चर्चा की। एक आधिकारिक प्रवक्ता ने कहा कि रावत ने राज भवन में वोहरा से मुलाकात की। इससे पहले, सेना ने कश्मीर घाटी में दो दिन तक सुरक्षा समीक्षा की और संचालनात्मक तैयारियों का जायजा लिया। राज्यपाल ने सेना प्रमुख द्वारा आयोजित समीक्षा बैठक में भाग लेने वाले तीन सेना कमांडरों और कई वरिष्ठ लेफ्टिनेंट जनरलों से भी मुलाकात की थी।श्रीनगर

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने शुक्रवार को जम्मू कश्मीर के राज्यपाल एन. एन. वोहरा से मुलाकात कर सूबे में आंतरिक और बाहरी सुरक्षा प्रबंधन के मुद्दों पर चर्चा की। एक आधिकारिक प्रवक्ता ने कहा कि रावत ने रात यहां राज भवन में वोहरा से मुलाकात की। यह बैठक ऐसे समय में हुई जब सेना ने कश्मीर घाटी में दो दिन तक सुरक्षा समीक्षा की और संचालनात्मक तैयारियों का जायजा लिया।

प्रवक्ता ने कहा कि रावत ने राज्यपाल को सेना की संचालनात्मक समीक्षा के बारे में जानकारी दी जो गत शाम समाप्त हुई। उन्होंने कहा कि राज्यपाल और सेना प्रमुख ने आंतरिक और बाहरी सुरक्षा प्रबंधन से संबंधित कई महत्वपूर्ण मुद्दों के साथ-साथ और प्रभावी तरीके से आतंकवादी गतिविधियों से निपटने के लिए जरूरी कदमों पर चर्चा की।

प्रवक्ता ने कहा कि वोहरा ने राज्य के युवाओं के संतोषजनक भविष्य को आश्वस्त करने के लिए मौके और राजस्व बढ़ाने संबंधित मुद्दों पर भी सेना प्रमुख से चर्चा की। उन्होंने कहा कि राज्यपाल ने सेना प्रमुख द्वारा आयोजित समीक्षा बैठक में भाग लेने वाले तीन सेना कमांडरों और कई वरिष्ठ लेफ्टिनेंट जनरलों से भी मुलाकात की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.