भारत और पाकिस्‍तान के कल होने वाले मैच में ‘विलेन’ न बन जाए यह फैक्टर….

0
1970

भारत-पाकिस्तान के बीच कल यानी रविवार को हाईवोल्टेज मैच होने वाला है. दोनों टीमें पूरी तरह से तैयार हैं. दोनों देश का मीडिया और सोशल मीडिया एक दूसरे के खिलाफ जंग जैसा माहौल बनाए हुए है. कहा जा रहा है कि यह मैच पाकिस्तान के गेंदबाजों और भारतीय बल्लेबाजों के बीच होगा. उधर, पाकिस्तान के विस्फोटक बल्लेबाज शाहिद अफ्रीदी ने भी स्वीकार किया है कि इस मैच में भारत का पलड़ा भारी होगा. न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान स्टीफन फ्लेमिंग ने भी भारत को ‘शेर’ बताया है. इन सबके बीच एक फैक्टर ऐसा है जो इस मैच में विलेन बन सकता है और जिस पर क्रिकेट प्रेमियों का अभी तक ध्यान नहीं गया है.
यह रहा वो विलेन फैक्टर
दरअसल भारत-पाकिस्तान के बीच मैच एजबेस्‍टन में खेला जाना है. एजबेस्टन में मौसम लुका-छुपी का खेल रहा है. ऐसे में अगर मैच में बारिश ने बाधा डाली तो वर्षों बाद भारत-पाकिस्तान के बीच मैच की उम्मीद लगाए क्रिकेट फैंस को मायूस होना पड़ सकता है. एजबेस्टन में ही शुक्रवार को ऑस्‍ट्रेलिया और न्‍यूजीलैंड का मैच बारिश की भेंट चढ़ गया था और टीमों को अंक शेयर करने पड़े थे. मैच में बारिश के कारण खेल कई बार रोकना पड़ा. पहले आई बारिश के कारण इस मैच को 46-46 ओवर का करना पड़ा. मैच में न्‍यूजीलैंड टीम 45 ओवर में 291 रन बनाकर आउट हो गई. न्‍यूजीलैंड की पारी के तुरंत बाद बारिश फिर शुरू हो गई. इस कारण ऑस्‍ट्रेलिया के लिए लक्ष्‍य पुनर्निर्धारित किया गया.ऑस्‍ट्रेलिया को जीत के लिए 33 ओवर में 235 रन का लक्ष्‍य दिया गया. ऑस्‍ट्रेलिया का स्‍कोर जब 9 ओवर में तीन विकेट पर 53 रन था तभी बारिश फिर शुरू हो गई. इसके कारण मैच रद्द करना पड़ा.
अभी तक एजबेस्टन में तीन मैच में बारिश बनी बाधा
एजबेस्टन में दो अभ्यास मैच में बारिश खलल डाल चुकी है. भारत-न्यूजीलैंड के बीच 30 मई को खेला गया मैच भी बारिश से बाधित रहा था और भारत ने न्यूजीलैंड को डकवर्थ लुईस पद्धति से 45 रन से हरा दिया था. भारत ने न्यूजीलैंड को 38.4 ओवर में 189 रन पर ढेर कर दिया था. इसके जवाब में भारत ने जब 26 ओवरों में तीन विकेट पर 129 रन बनाये थे तभी भारी बारिश के कारण खेल रोकना पड़ा. इसके बाद आगे का खेल नहीं हो पाया और भारतीय टीम ने इस तरह से इंग्लैंड दौरे का जीत से आगाज किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.