मंदसौर में मृतक किसानों के परिवार से मिलने के लिए राहुल गांधी दिल्ली से निकले

0
722

नई दिल्ली, एएनआई। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी मध्य प्रदेश के मंदसौर के लिए निकल गए हैं। वो प्रदर्शनों के दौरान जान गंवाने वाले किसानों के परिवारों से मिलेंगे। मध्य प्रदेश के मंदसौर में पुलिस फायरिंग में 6 किसानों की मौत के बाद लोगों का गुस्सा उबाल पर है।

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी मंदसौर के लिए दिल्ली से निकल गए हैं। वह पीड़ित परिवारों से मुलाकात करेंगे। हालांकि भाजपा ने उन्हें वहां न जाने की सलाह दी है। बुधवार को पूरे दिन जगह-जगह से हिंसा की खबरें आती रहीं।

प्रशासन ने नेताओं को नहीं जाने दिया मंदसौर
इधर, इस मामले पर पर राजनीति भी तेज होती जा रही है। बुधवार को कांग्रेस के बंद के बाद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी आज (गुरुवार) मंदसौर जाकर पीड़ित परिवारों से मिलेंगे। राहुल को बुधवार को ही मंदसौर जाना था, लेकिन हालात को देखते हुए उन्होंने अपना दौरा एक दिन के लिए टाल दिया था।

इधर, भाजपा का कहना है कि राहुल के मंदसौर आने से हालात और बिगड़ेंगे। ऐसे में उन्हें राजनीति करने से बचना चाहिए। भाजपा और कांग्रेस के कई नेताओं ने मंदसौर जाने की कोशिश की थी, लेकिन प्रशासन ने उन्हें रोक दिया था।

कई जगह गाड़ियों को जलाया गया, पथराव किया गया
मंदसौर में हुई गोलीबारी में पांच किसानों की मौत के बाद किसानों का गुस्सा जमकर सड़कों और रेल की पटरियों पर टूटा। कई जगहों पर गाडियों को जला दिया गया, पथराव कर बसों के शीशे तोड़े गए और ट्रेन की पटरियों के साथ तोड़फोड़ की गई।

कलेक्टर को उलटे पांव लौटना पड़ा
वहीं बुधवार को मंदसौर के कलेक्टर स्वतंत्र कुमार किसानों को समझाने गए, लेकिन भीड़ से जान बचाकर उन्हें भागना पड़ा। डीएम ने अब तक सरकार की लाइन को दोहराते हुए कहा कि फायरिंग के आदेश नहीं दिए गए थे।

भोपाल से दिल्ली तक की बैठक नहीं लगा पाई जख्मों पर मरहम
शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर शांति की अपील की है, लेकिन शायद भोपाल से दिल्ली तक की बैठक में मालवा के किसानों के जख्मों पर मरहम नहीं लगा पाए।

पूरे इलाके में सुरक्षाबलों की भारी तैनाती की गई है। राज्य सरकार ने उपद्रवियों से निपटने के लिए केंद्रीय सुरक्षा बलों की पांच और कंपनियों की मांग की, जिसके बाद केंद्र ने 1100 दंगा विरोधी पुलिस बल मंदसौर भेजे हैं। मंदसौर के अलावा नीमच, रतलाम में भी मोबाइल इंटरनेट बंद है। इस बीच बुधवार शाम पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने वरिष्ठ मंत्रियों के साथ बैठक कर हालात की समीक्षा की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.