अंतरराष्ट्रीय योग दिवस : भारत के साथ कई देशों ने किया योग-आसन

0
938

लखनऊ/दिल्ली : तीसरे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर बुधवार को देशभर में लाखों लोगों ने योग-आसन और प्राणायाम कर निरोग रहने का संदेश दिया और इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि योग दुनिया के अनेक देशों को भारत से जोड़ रहा है.

पेरु में माचू पीचू के प्राचीन शहर इंका से लेकर चीन की ग्रेट वॉल तक और लखनऊ के रमाबाई अांबेडकर मैदान से दिल्ली के कनॉट प्लेस तक भारत में और विश्व के देशों में ‘ओम ‘ का नाद गूंजा जहां लोगों ने अध्यात्म तथा शारीरिक व्यायाम को जोड़नेवाली इस विधा का अभ्यास किया. कई शहरों में दफ्तरों, पार्कों और सड़कों तक पर लोग योग करने जमा हुए जिनमें आम लोगों से लेकर राजनेता, नौकरशाह, न्यायाधीश भी शामिल थे.

दुनिया को योग देनेवाले भारत में आयोजित कार्यक्रमों का मुख्य केंद्रबिंदु लखनऊ रहा जहां रमाबाई मैदान में प्रधानमंत्री मोदी की मौजूदगी में 51 हजार से अधिक लोगों ने भाग लिया. सफेद टी-शर्ट और ट्राउजर पहन कर समारोह में भाग ले रहे मोदी ने कहा कि अब योग हर व्यक्ति के जीवन का हिस्सा बन गया है. उन्होंने कहा, ‘कई ऐसे देश जो हमारी भाषा, परंपरा या संस्कृति को नहीं जानते, अब योग के माध्यम से भारत से जुड़ रहे हैं. शरीर, मस्तिष्क और आत्मा को जोड़नेवाला यह अभ्यास विश्व को जोड़ने में भी बड़ी भूमिका निभा रहा है. ‘मोदी ने बाद में ट्वीट किया, ‘आज, योग इतनी सारी जिंदगियों का हिस्सा बन गया है. भारत के बाहर योग की लोकप्रियता चरम पर है और इसने दुनिया को भारत से जोड़ा है.

‘ लखनऊ और दिल्ली में बारिश ने खलल जरूर डाला, लेकिन बैठने के आसन गीले होने के बावजूद पार्कों और सार्वजनिक स्थानों पर जमा हुए लोगों का उत्साह देखते ही बनता था. लखनऊ में पडोस के सीतापुर से योगाभ्यास समारोह में भाग लेने आयी 19 साल की प्रेंशा ने कहा, ‘मोदी यहां आकर बच्चों और युवाओं के साथ योग कर रहे हैं. यह शायद मेरे जीवन का सबसे अद्भुत आयोजन है. ‘ दिल्ली में करीब 77 हजार लोगों ने तड़के हुई रिमझिम बरसात को धता बताते हुए शहरभर के आयोजन स्थलों पर उत्साह के साथ पहुंच कर योग को जीवन का हिस्सा बनाने का संदेश दिया. आयुष मंत्रालय के अधिकारियों का अनुमान है कि सबसे ज्यादा लोग लाल किले के लॉन में जमा हुए जिनकी संख्या 50 हजार थी. कनॉट प्लेस में 10 हजार लोगों ने और रोहिणी के डीडीए पार्क में करीब नौ हजार लोगों ने योग किया.

प्रधानमंत्री मोदी लखनउ में थे तो उनकी सरकार के मंत्री एम वेंकैया नायडू और विजय गोयल कनॉट प्लेस पहुंचे. उनके साथ दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और भाजपा के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद भी थे. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने उनके मंत्रालय द्वारा आयोजित योग सत्र में भाग लिया जिसमें विभिन्न मिशनों के करीब 100 राजनयिकों ने शिरकत की. सुषमा ने इस मौके पर कहा कि योग केवल भारत से नहीं जुड़ा और यह आंतरिक शांति प्राप्त करने का विज्ञान है.

अहमदाबाद में स्वामी रामदेव की मौजूदगी में जीएमडीसी मैदान में करीब 54 हजार लोग योगाभ्यास करने एकत्र हुए. रामदेव ने दावा किया कि यह एक विश्व रिकाॅर्ड है. इस मौके पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह उपस्थित थे. देश के अन्य हिस्सों में भी इसी तरह के दृश्य देखने को मिले. ब्रिटेन के लंदन और पेरिस के एफिल टॉवर जैसी दुनियाभर की प्रसिद्ध जगहों पर भी लोग योग करने एकत्र हुए. न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में हर वर्ग के लोग नार्थ लॉन्स में जमा हुए और उन्होंने ‘योगा सेशन विद योगा मास्टर्स ‘ में भाग लिया. इस मौके पर संयुक्त राष्ट्र ने विशेष स्टांप भी जारी किये. न्यूयॉर्क में अन्य स्थानों पर भी भारतवंशी समुदाय के लोग बड़ी संख्या में लोग जमा हुए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.