US में बोले मोदी, सर्जिकल स्ट्राइक पर दुनिया में किसी ने सवाल नहीं उठाया

0
836

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अमेरिका के वर्जीनिया में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि 3 साल के कार्यकाल में सरकार पर भ्रष्टाचार का एक भी दाग नहीं लगा है। उन्होंने कहा कि पहले के मुकाबले भारत तेज गति से आगे बढ़ रहा है। मोदी ने भारतीय सेना द्वारा की गई सर्जिकल स्ट्राइक का प्रमुखता से जिक्र करते हुए कहा कि दुनिया में किसी ने भारत की कार्रवाई पर सवाल नहीं उठाया। पीएम ने इस दौरान पाकिस्तान पर तंज कसे तो चीन पर भी इशारों में निशाना साधा।
प्रधानमंत्री मोदी ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि नियंत्रण रेखा के पार भारत द्वारा की गई सजर्किल स्ट्राइक यह साबित करती है कि भारत अपनी रक्षा के लिए कड़े से कड़े कदम उठाने में नहीं हिचकेगा। उन्होंने साथ ही यह भी कहा कि दुनिया के किसी भी देश ने इन हमलों पर सवाल नहीं उठाए। वर्जीनिया में एक समारोह के दौरान भारतीय-अमेरिकियों को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि भारत विश्व को आतंकवाद के उस चेहरे के बारे में समझाने में सफल रहा है, जो देश में शांति और सामान्य जीवन को तबाह कर रहा है। उन्होंने कहा , ‘जब हम आज से 20 साल पहले के आतंकवाद की बात करते थे, तो दुनिया में कई लोगों ने कहा था कि यह कानून और व्यवस्था से जुड़ी समस्या है और तब वे इसे समझते नहीं थे। अब आतंकियों ने उन्हें आतंकवाद का अर्थ समझा दिया है, इसलिए हमें अब उन्हें समझाने की जरूरत ही नहीं है।’
मोदी ने कहा कि सजर्किल स्ट्राइक ने दिखा दिया कि आम तौर पर संयम के सिद्धांत का पालन करने वाला भारत जरूरत पड़ने पर अपनी संप्रभुता की रक्षा भी कर सकता है और अपनी सुरक्षा सुनिश्चित भी कर सकता है। उन्होंने प्रवासी भारतीयों से कहा, ‘भारत ने जब सजर्किल हमले किए तो विश्व को हमारी ताकत का अहसास हो गया। दुनिया ने देखा कि वैसे तो हम संयम बरतते हैं, लेकिन आतंकवाद से निपटने और खुद की सुरक्षा करने के दौरान जरूरत पड़ने पर भारत अपनी शक्ति और पराक्रम भी दिखा सकता है।’
पीएम मोदी ने कहा, ‘सर्जिकल स्ट्राइक एक ऐसी घटना थी, यदि दुनिया चाहती, तो भारत के बाल नोंच लेती। हमें कटघरे में खड़ी करती, हमसे जवाब मांगा जाता, लेकिन भारत के इतने बड़े कदम पर दुनिया में कहीं भी एक सवाल तक नहीं उठा। मोदी ने पाकिस्तान पर एक और तंज कसते हुए कहा, ‘हां, उन लोगों की बात और है, जो सजर्किल हमलों का शिकार बने।’ उनकी यह बात सुनकर वहां बैठे श्रोता ठहाके लगाने लगे।
इसके अलावा दक्षिण चीन सागर में चीन की आक्रामकता पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत अपने लक्ष्यों की पूर्ति के लिए वैश्विक व्यवस्था को भंग करने में यकीन नहीं रखता। उन्होंने कहा, ‘यह भारत की परंपरा और संस्कृति है। हम अंतरराष्ट्रीय नियमों से बंधे हैं क्योंकि यह हमारा चरित्र और प्रकृति है। हमारे लिए वसुधैव कुटुंबकम महज शब्द नहीं हैं, यह हमारा चरित्र एवं प्रकृति है।’
सरकार पर एक भी दाग नहीं
प्रधानमंत्री ने अपनी सरकार के कामकाज का जिक्र करते हुए कहा कि 3 साल के कार्यकाल में सरकार पर भ्रष्टाचार का एक भी दाग नहीं लगा है। उन्होंने कहा कि पहले के मुकाबले भारत तेज गति से आगे बढ़ रहा है।
‘सब्सिडी से गरीबों का भला’
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘एक बार कहने पर सवा करोड़ सक्षम लोगों ने सब्सिडी छोड़ दी। इसके बाद सब्सिडी के पैसों से गरीबों को रसोई गैस उपलब्ध कराई गई।’ भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, ‘हमने बीड़ा उठाया है कि पांच करोड़ गरीब परिवारों में गैस चूल्हा उपलब्ध कराया जाए। मुझे गर्व है कि अभी तक एक करोड़ परिवारों को गैस सिलिंडर उपलब्ध करवा दिए गए हैं।’
इससे पहले अमेरिका के दो दिवसीय दौरे के पहले दिन रविवार को पीएम मोदी ने वॉशिंगटन में अमेरिका की 20 दिग्गज कंपनियों के CEOs के साथ बैठक की। उन्होंने जीएसटी को गेमचेंजर बताते हुए निवेशकों को भारत में निवेश के लिए आमंत्रित भी किया। सोमवार को अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के साथ पीएम मोदी की ऐतिहासिक वार्ता होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.