सुशील मोदी बिहार भाजपा के खलनायक हैं : भोला सिंह

0
679

पटना : भाजपा सांसद भोला सिंह ने पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी पर तल्ख हमला बोलते हुए उन्हें बिहार भाजपा का खलनायक करार दिया है. साथ ही कहा कि डिप्टी सीएम बनने के बाद सुशील मोदी ने पार्टी को कत्लगाह बना दिया है. वह बिहार भाजपा के खलनायक हैं. उन्होंने पार्टी को सलाह देते हुए कहा कि भाजपा को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लिए दरवाजा खोल देना चाहिए.

जिसे नायक होना चाहिए, वही बना खलनायक

बेगूसराय से भाजपा के सांसद डॉक्टर भोला सिंह ने सोमवार को कहा कि बिहार की राजनीति के दुश्चक्र और दशा-दिशा का अगर कोई खलनायक है, तो वह स्वयं सुशील मोदी हैं, जिसे नायक होना चाहिएथा. साथ ही उन्होंने आशंका जतायी कि सुशील मोदी 28 जुलाई से शुरू हो रहे विधानसभा के मॉनसून सत्र को ठीक से नहीं चलने देंगे. सुशील मोदी लड़ रहे हैं. भारतीय जनता पार्टी का कोई फैसला नहीं है. यह सब सुशील मोदी का फैसला है. सुशील मोदी का फैसला भारतीय जनता पार्टी का फैसला नहीं हो सकता. बिना नीति तय किये हुए, विचार-विमर्श किये हुए, क्या ऐसा कदम उठाया जा सकता है.

पार्टी को बना दिया कत्लगाह

उन्होंने आगे कहा कि मुख्यमंत्री बनने के लिए सुशील मोदी ने बिहार की यह दुर्दशा की है और पार्टी को कत्लगाह बना दिया है. खास वर्ग के लोगों को सुन-सुन कर हमारे जैसे लोगों को परेशान किया जा रहा है. साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि पार्टी में ऐसे लोग आ गये हैं, जिन्हें पार्टी से कोई मतलब ही नहीं है.

बिहार केशरी के बाद मिला नीतीश जैसा मुख्यमंत्री

भोला सिंह ने सलाह दी कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लिए भाजपा को दरवाजा खोल देना चाहिए. अभी भाजपा ने बड़ा धीरे से खिड़की खोली है. वहीं, सुशील मोदी उस खिड़की को धीरे से बंद कर रहे हैँ. भाजपा को खिड़की बंद करके दरवाजा खोलने की जरूरत है. उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री श्रीकृष्ण सिंह से नीतीश कुमार की तुलना करते हुए कहा कि बिहार केशरी के बाद बड़ी मुश्किल से बिहार को ऐसा मुख्यमंत्री मिला है, जिसका अपना कोई परिवार नहीं है. जिसकी अपनी कोई दौलत नहीं है. जो राजनीतिक उद्देश्य के साथ-साथ बिहार की गौरव गरिमा को ऊंचाई पर ले जाना चाहता है. ऐसा व्यक्ति बड़ी मुश्किल से मिलता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.