H-1B वीजा की कुछ कैटिगरी की प्रक्रिया में तेजी लाएगा अमेरिका

0
741

एच-1बी वीजा को लेकर एक अच्छी खबर आई है। यूएस ने कुछ कैटिगरी में एच-1बी वीजा की प्रक्रिया में तेजी लाने की बात कही है। जहां आईटी सेक्टर में नौकरियों पर तलवार लटक रही है, ऐसे में यह खबर आईटी प्रफेशनल को वाकई राहत देने वाली है। एच-1बी वीजा के जरिए विदेशी नागरिक अमेरिका में नौकरी कर सकते हैं। राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने अपने चुनाव कैंपेन के दौरान इस वीजा पर सवाल खड़े किए थे। साथ ही अप्रैल में इसे लेकर नियम सख्त किए थे और ‘प्रीमियम’ प्रक्रिया को छह महीने के लिए रोक दिया था। यूएस सिटिजनशिप ऐंड इमीग्रेशन सर्विस (USCIS) की तरफ से जारी अधिकारिक बयान में यह बात कही गई है। बता दें कि प्रीमियम प्रक्रिया के तहत 15 दिन में वीजा मिल जाता है, जबकि इसके बगैर वीजा पाने में लंबा वक्त लगता है। अमेरिका की कंपनियां दूसरे देशों से आने वाले टैलंट को काम कराने के लिए इसी वीजा के आधार पर बुलाती हैं, लेकिन प्रीमियम प्रक्रिया बंद करने के बाद आईटी सेक्टर को काफी तंगी से गुजरना पड़ रहा था। अमेरिका ने चुनाव के दौरान ‘अमेरिकन फर्स्ट’ का नारा भी दिया था। अमेरिकी कंपनी अक्सर इस वीजा का उपयोग ग्रैजुएट स्तर के कर्मचारियों को आईटी, मेडिकल, इंजीनियरिंग जैसे सेक्टर में काम देने के लिए हैं। इस वीजा पर सख्ती के बाद सबसे ज्यादा समस्या भारत के आईटी प्रफेशनल को झेलनी पड़ी थी। अमेरिका हर साल करीब 65 हजार एच-1बी वीजा जारी करता है। इसके अलावा 20 हजार अतिरिक्त वीजा उनको दिया जाता है, जिन्होंने अमेरिका से एडवांस डिग्री हासिल की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.