सिंधु जल समझौता: बेहतर सहयोग के बीच भारत-पाक वार्ता

0
1066

वर्ल्‍ड बैंक के अनुसार, सिंधु नदी समझौते पर भारत पाक अधिकारियों के बीच वार्ता बेहतर सहयोग के साथ अच्‍छी रही। इस मुद्दे पर दोबारा सितंबर में वार्ता होगी। विश्‍व बैंक ने कहा, ‘सिंधु जल समझौते (आईडब्‍ल्‍यूटी) पर दोनों पार्टियों ने आगामी सितंबर माह में दोबारा वार्ता पर सहमति जतायी है।‘ वर्ल्‍ड बैंक ने बताया कि भारत पाक के बीच इस हफ्ते हुई सचिव स्‍तरीय चर्चा सहयोग और सद्भावपूर्ण रही। हालांकि विश्वबैंक ने और कोई जानकारी नहीं दी। इससे पहले विश्व बैंक ने 25 जुलाई को पत्र लिखकर अमेरिका में भारत के राजदूत नवतेज सरना को आश्वासन दिया था कि वह इस मामले में अपनी तटस्थता और निष्पक्षता को बरकरार रखेगा, ताकि सुलह का रास्ता खोजा जा सके। इससे पहले दोनों देशों ने पाकिस्तान में स्थाई सिंधु आयोग (पीआईसी) की बैठक के दौरान इस वर्ष मार्च में दो परियोजनाओं पर वार्ता की थी। पाकिस्तान ने जम्मू-कश्मीर में स्थित दो पनबिजली परियोजनाओं के डिजाइन को लेकर चिंता जताते हुए पिछले साल विश्व बैंक का रुख किया था। यह मांग की गई थी कि 57 वर्ष पुराने जल वितरण समझौते के तहत दोनों देशों के बीच मध्यस्थ विश्व बैंक इन चिंताओं के समाधान के लिए एक मध्यस्थता अदालत का गठन करे। दूसरी ओर, भारत ने कहा था कि पाकिस्तान ने जो चिंताएं व्यक्त की हैं, वे तकनीकी हैं और इस मामले की जांच के लिए एक तटस्थ विशेषज्ञ नियुक्त किया जाना चाहिए। इसके बाद विश्व बैंक ने नवंबर 2016 में परियोजनाओं के संबंध में दोनों देशों के बीच तकनीकी मतभेदों के समाधान के लिए तटस्थ विशेषज्ञ नियुक्त करने और मध्यस्थता अदालत के गठन की दो प्रक्रियाएं साथ में शुरू की थीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.