राहुल गांधी का PM मोदी पर हमला- गाड़ी पर पथराव जिसने कराया वो निंदा कैसे करेगा

0
746

गुजरात में बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा करने पहुंचे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की कार पर पथराव का मुद्दा गरमा गया है. कांग्रेस पार्टी ने बीजेपी और आरएसएस पर जमकर हमला बोला है. खुद राहुल गांधी ने इसके लिए संघ-बीजेपी को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि इन हमलों से वे डरने वाले नहीं और लोगों की आवाज उठाते रहेंगे.

क्या कहा राहुल गांधी ने?

इस हमले की पीएम मोदी की ओर से निंदा नहीं होने पर प्रतिक्रिया देते हुए शनिवार को राहुल गांधी ने कहा कि जो लोग हमला कराते हैं वे उसकी निंदा क्यों करेंगे. राहुल गांधी ने कहा कि बीजेपी के वर्कर ने इतना बड़ा पत्थर मारा मेरी कार पर. मेरे पीएसओ को लगी. राहुल ने कहा कि यही पीएम मोदी और बीजेपी की राजनीति का तरीका है इसमें क्या कहा जा सकता है. वे लोगों की आवाज बुलंद करते रहेंगे. इन्हें जो करना है करने दीजिए.

सोची समझी साजिश: कांग्रेस

कांग्रेस पार्टी ने गुजरात के बनासकांठा में राहुल गांधी की कार पर पत्थर मारने को सोची समझी साजिश ते तहत हमला करार दिया है. गुलाब नबी आजाद ने कहा- जो घटना गुजरात में घटी उस घटना को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता. कई हफ्तों से देश में और देश के कई हिस्सों में बाढ़ आई हुई है. असम गुजरात राजस्थान विशेष रूप से प्रभावित हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी तीन-चार दिन के दौरे पर थे कि लोगों की समस्या समझें. राहुल गांधी बनासकांठा गए जहां पर खुद मुख्यमंत्री 3 दिन बाद गए थे. जब वह दौरा कर रहे थे धनेरा में वही लाल चौक में 3 हजार लोग खड़े थे जो राहुल का स्वागत कर रहे थे. आजाद ने आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार की तरफ से उस बैठक को बाधित करने की पूरी कोशिश की गई लेकिन राहुल गांधी बिल्कुल भी डिस्टर्ब नहीं हुए और अपना काम करते रहे.

जब लाल चौक से वह निकल गए थे तो RSS और BJP की सोची समझी साजिश के तहत एक मोड़ पर राहुल गांधी की गाड़ी पर हमला किया गया. राहुल की कार का कांच नीचे उतर आया था लेकिन पिछला कांच जहां पर पीएसओ बैठता है वहीं बहुत बड़ा बोल्डर पिछले कांच पर फेंका गया. कांच टूट के गाड़ी के अंदर गिर गया इस तरह का जानलेवा हमला राहुल गांधी पर किया गया जिसकी हम निंदा करते हैं.

राहुल गांधी एसपीजी प्रिटेक्टी हैं, सबसे नंबर वन डिग्री की सुरक्षा होती है. ये कानून एक्ट के तहत बनाया गया है. यह सुरक्षा की जिम्मेदारी केंद्र और राज्य सरकार की होती है. पर यहां पर राज्य सरकार पूरी तरह से असफल हो गई. हम सोचते हैं कि आने वाले दिनों में चुनाव का मौसम है और आगे भी राहुल गांधी की सुरक्षा की जिम्मेदारी केंद्र और राज्य सरकार की है और अगर इस तरह का घटना दोबारा हुआ तो देश की जनता बर्दाश्त नहीं करेगी.

रणदीप सुरजेवाला ने क्या कहा

कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा- हमने चार लोगों का नाम अपनी शिकायत में दिया है. यह भारतीय जनता पार्टी के युवा मोर्चे के लोग हैं. अब उनको छोड़ दिया गया है. ऐसा क्यों हो रहा है? आप ट्विटर पर इसका जवाब दे रहे हैं पर कार्रवाई नहीं कर रहे. यह हमला जानलेवा था और एक सोची समझी साजिश के तहत था. भाजपा के गुंडों ने जानलेवा हमला किया, उतना बड़ा पत्थर राहुल को लग जाता तो आप सोचिये क्या होता.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.