सृजन महाघोटाले में सुशील मोदी की चचेरी बहन रेखा मोदी को करोड़ों का भुगतान!

0
1197

बिहार में जब से सृजन घोटाला उजागर हुआ है तब से हर व्यक्ति की दिलचस्पी केवल एक बात को लेकर है कि इस पूरे घोटाले में कौन-कौन राजनेता फंसेंगे? अभी तक राजनेताओं में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, पूर्व सांसद शाहनवाज़ हुसैन, झारखंड के सांसद निशिकांत दुबे, भाजपा से अब निलंबित किसान मोर्चा के उपाध्यक्ष विपिन शर्मा, उपेन्द्र कुशवाहा की पार्टी के दीपक वर्मा के नाम सामने आए हैं। इनके प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से सृजन या उसके संचालक मनोरमा देवी या उनके बेटे अमित कुमार और उनकी पत्नी प्रिया से संबंध रहे। ताज़ा खुलासे में रेखा मोदी का नाम सामने आया हैं। एक समाचार वेबसाइट की खबर के मुताबिक रेखा मोदी, जो सुशील मोदी की चचेरी बहन हैं उनका सृजन घोटाले की मुख्य आरोपी मनोरमा देवी से मधुर संबंध जगजाहिर है।
उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी की चचेरी बहन हैं रेखा मोदी
रेखा मोदी बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी की चचेरी बहन हैं। हालांकि दोनों के बीच हाल के वर्षों में कभी मधुर संबंध नहीं रहे लेकिन सुशील मोदी को बिहार की सत्ता में 2005 से रेखा मोदी के कारण कई बार आलोचना का सामना करना पड़ा। रेखा मोदी के ऊपर लगे आरोपों के कारण फ़ज़ीहत का सामना करना पड़ा है। जांच एजेंसियों को सृजन के खाते से भुगतान कर बहुत बड़ी मात्रा में आभूषण ख़ासकर हीरे की ख़रीदारी के सबूत मिले। ये हीरे के आभूषण राजनेताओं और अधिकारियों के परिवारवालों को गिफ़्ट दिया जाता था लेकिन इस जांच में पता चला कि पटना के जिस ज्वेलर्स को हीरे के ख़रीदारी का भुगतान सृजन ने कभी सीधे या अधिकांश समय रेखा मोदी के एक-एक कंपनी के माध्यम से किया। जालान जेम्स के मालिक रवि जालान ने पूछताछ में इस बात को माना भी हैं कि उन्हें भुगतान रेखा मोदी ने ही कई बार किया। हालांकि रेखा मोदी फ़िलहाल ग़ायब हैं। उनके पटना स्थित घर पर कोई उनका ठिकाना नहीं बता रहा लेकिन मनोरमा देवी से उनके मधुर संबंध जगज़ाहिर हैं। निश्चित रूप से इस आधार पर आने वाले दिनों में इस घोटाले को लेकर बिहार में राजनीतिक हलचल तेज होगी और खासकर राजद और तीखे तेवर दिखाएगी।
अश्लीलता फैलाने के आरोप में रेखा मोदी ली गईं थीं हिरासत में
जुलाई 2010 में पटना के कदमकुंआ थाना क्षेत्र में राज्य के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी की बहन रेखा मोदी पर अश्लीलता फैलाने तथा सरकारी कार्यों में बाधा डालने के आरोप में एक मामला दर्ज किया गया था। पटना के तत्कालीन वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अमित कुमार जैन ने बताया था कि रेखा को पुलिस हिरासत में ले लिया गया है। उन्होंने बताया कि रेखा पर सरकारी कार्य में बाधा डालने तथा सड़क पर अश्लीलता फैलाने का आरोप लगाते हुए एक मामला दर्ज किया गया है। पुलिस के अनुसार रेखा मोदी बदहवास हालत में पटना की सड़कों पर आ गई थी और अपने भाइयों पर कपड़े फाड़ने का आरोप लगा रही थी। पुलिस के अनुसार रेखा हालांकि इसकी शिकायत पुलिस को लिखित रूप से नहीं दे रही हैं। रेखा मोदी ने आरोप लगाया था कि वह अपने मां से मिलने अपने भाई महावीर मोदी और उद्घव मोदी के घर गई थी। इस दौरान उनके भाइयों ने उनके साथ बदतमीजी की तथा उनके कपड़े फाड़ डाले। इस दौरान उन्हें बेइज्ज्त करने की भी कोशिश की गई। इस मामले में भी सुशील कुमार मोदी ने उस वक्त कोई प्रतिक्रिया नहीं दी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.