बिहार : औरंगाबाद की पूर्व सांसद श्यामा सिंह का निधन, सीएम ने जताया दुख

0
931

पटना । बिहार के औरंगाबाद की पूर्व सांसद श्यामा सिंह का रविवार की देर रात करीब 1 बजे दिल्ली के स्कॉर्ट्स फोर्टिस अस्पताल में निधन हो गया। वह लंबे समय से बीमार चल रही थीं। श्यामा सिंह पूर्व राज्यपाल निखिल कुमार की पत्नी और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री सत्येंद्र नारायण सिन्हा की बहू थीं।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पूर्व सांसद श्यामा सिंह के निधन पर गहरी शोक-संवेदना व्यक्त की है। अपने शोक-संदेश में मुख्यमंत्री ने कहा है कि वे एक प्रख्यात राजनेत्री एवं प्रसिद्ध समाजसेवी थी। उनके निधन से न केवल राजनीतिक बल्कि समाजिक क्षेत्रों में भी अपूर्णीय क्षति हुई है।

श्यामा सिंह के निधन पर डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी और बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव समेत कई लोगों ने शोक प्रकट किया है।

कौन थीं श्यामा सिन्हा

26 नवंबर 1942 को बिहार के एक प्रसिद्ध नौकरशाह परिवार में जन्मी श्यामा सिंह ने 1999-2004 औरंगाबाद लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया। श्यामा सिंह की शादी पूर्व नागालैंड और केरल के राज्यपाल निखिल कुमार से हुई। निखिल कुमार जो बिहार में एक ही लोकसभा क्षेत्र से 14वीं लोकसभा के लिए चुने गये थे।

श्यामा सिंह भारत के दिवंगत प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पहल पर कांग्रेस में शामिल हुईं, जिनकी निखिल कुमार से मुताबिक दिल्ली में एक सामाजिक समारोह में हुई। श्यामा सिंह की एक सांसद के रूप में बड़ी उपलब्धि नबीनगर सुपर थर्मल पावर प्रोजेक्ट को पुनर्जीवीत करना था। यह सपना उनके ससुर और बिहार के तत्कालीन मुख्यमंत्री स्व. सत्येंद्र नारायण सिन्हा ने 1989 में देखा था।

श्यामा सिंह भारतीय सिविल सेवा के अधिकारी टीपीपी सिंह की पुत्री थीं, जिन्होंने स्वतंत्र भारत के प्रथम वित्त सचिव के रूप में कार्य किया था। श्यामा के पिता पूर्णिया से सांसद भी रहे। श्यामा सिंह ने पटना से अपनी स्कूली शिक्षा पूरी की। उसके बाद, उन्होंने इंद्रप्रस्थ कॉलेज फॉर विमेन में इतिहास से स्नातक किया।

श्यामा सिंह के बड़े भाई पूर्व नौकरशाह और राज्यसभा के पूर्व सदस्य एन के सिंह बिहार कैडर के 1964 बैच के आइएएस अधिकारी रहे। एनके सिंह ने भारत के राजस्व सचिव और प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव के रूप में भी काम किया है।

श्यामा सिंह के छोटे भाई उदय सिंह ने भी लोकसभा में दो बार बिहार के पूर्णिया लोकसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया है। उनके ससुर और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री एस एन सिन्हा ने भी लोकसभा में लगातार सात बार औरंगाबाद लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से सात बार प्रतिनिधित्व किया था।

श्यामा सिंह केरल और नागालैंड की प्रथम महिला भी बनीं, जब निखिल कुमार यहां राज्यपाल थे। एक सांसद के रूप में, उन्होंने स्कूलों, महिला कॉलेजों में कई विकास परियोजनाओं की शुरुआत की और जिले में एक नया कंप्यूटर केंद्र स्थापित किया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.