खुलासा: नेपाल में ही है राम रहीम की हनीप्रीत, 3 लोगों के साथ कार में देखा गया

0
759

राम रहीम की करीबी हनीप्रीत के खिलाफ पंचकूला में केस दर्ज किया गया है. 25 अगस्त को पंचकूला में हुई हिंसा के दौरान दंगे भड़काने के आरोप में मामला दर्ज किया गया है. आईजी लॉ एंड आर्डर एएस चावला ने इसकी पुष्टि की है. वहीं, सूत्रों द्वारा पता चला है कि हनीप्रीत नेपाल में ही छिपी हुई है. उसे नेपाल के महेंद्र नगर और विराट नगर में देखा गया है.

हरियाणा पुलिस सूत्रों का कहना है कि हनीप्रीत नेपाल के महेंद्र नगर में छिपी हुई है. उसे तीन लोगों के साथ देखा गया है. वह वहां पिछले एक सप्ताह से रुकी हुई है. नेपाल नंबर की गाड़ी में विराट नगर स्थित एक पेट्रोल पर भी देखा गया है. उसे अपना हुलिया बदल लिया है, ताकि उसकी पहचान न हो पाए. उसकी खोज के लिए पुलिस की 10 टीम बनाई गई हैं.

इसके साथ ही पुलिस यूपी और बिहार से जुड़े भारत-नेपाल बॉर्डर पर भी पूछताछ कर रही है. पुलिस नेपाल बॉर्डर के रिकॉर्ड रजिस्टर भी खंगाल रही है. बताया जा रहा है कि हनीप्रीत नेपाल की सीमा में एक मर्सीडीज कार से दाखिल हुई थी. पुलिस को उस गाड़ी की जानकारी किसी भी रजिस्टर से नहीं मिली है. शक है कि वह बॉर्डर पर गाड़ी छोड़कर नेपाल में दाखिल हुई है.

हनीप्रीत ने पुलिस और जांच एजेंसियों से बचने के लिए गाड़ी को बॉर्डर पर छोड़ा होगा. पुलिस हनीप्रीत के नेपाल जाने में मदद करने वाले शख्स की भी तलाश कर रही है. हनीप्रीत को नेपाल के पोखरा में देखे जाने की सूचना मिली थी. जब तक पुलिस वहां पहुंचती वह फरार हो चुकी थी. पुलिस टीम पूछताछ के लिए काडमांडू स्थित इमिग्रेशन विभाग के ऑफिस भी गई थी.

इससे पहले हरियाणा पुलिस ने पंचकूला में हुई हिंसा को लेकर वांछित लोगों की एक सूची जारी की है. इसमें कुल 43 लोगों की तस्वीर है. इस लिस्ट में राम रहीम की करीबी हनीप्रीत का नाम सबसे ऊपर है. इसके साथ ही डेरा के प्रवक्ता आदित्य इंसा का नाम भी शामिल है. ये तस्वीरें न्यूज चैनलों के फुटेज और सीसीटीवी कैमरों से ली की गई हैं.

हालांकि, पुलिस अभी तक इन आरोपियों के नामों की पहचान नहीं कर पाई है. सभी आरोपी पंचकूला में हुई हिंसा के लिए जिम्मेदार बताए गए हैं. इस हिंसा के कारण पंचकूला में 32 लोगों की मौत हो गई थी और करीब 250 लोग घायल हो गए थे. कोर्ट द्वारा फैसला सुनाए जाने से पहले ही करीब एक लाख डेरा अनुयाई पंचकूला में एकत्रित हो गए थे.

बताते चलें कि हनीप्रीत 25 अगस्त की शाम से ही फरार है. बताया जा रहा है कि वह नेपाल में जाकर छिपी हुई है. उसे नेपाल में इटहरी के पास स्थित धरान इलाके में भी देखे जाने का दावा किया गया है. दरअसल 2015 में नेपाल में आए भूकंप के दौरान राम रहीम ने इस इलाके में राहत अभियान चलाया था. यहां उसके काफी भक्त भी हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.