छात्रा की मौत के बाद देवरिया का स्कूल आज से 21 तक बंद

0
447

देवरिया के मॉडर्न सिटी मांटेसरी, नेहरू नगर में छात्रा नीतू की मौत के बाद स्कूल को बंद कर दिया गया है। स्कूल को आज से 21 सितंबर तक के लिए बंद किया गया है।

देवरिया (जेएनएन)। रहस्यमय परिस्थितियों में छात्रा नीतू की मौत के बाद उसके स्कूल को आज से 21 सितंबर तक के लिए बंद किया गया है। आज पुलिस ने घटनास्थल की जांच शुरू कर दी है।

देवरिया के मॉडर्न सिटी मांटेसरी, नेहरू नगर में छात्रा नीतू की मौत के बाद स्कूल को बंद कर दिया गया है। स्कूल को आज से 21 सितंबर तक के लिए बंद किया गया है। दूसरी तरफ पुलिस ने इस घटना की जांच शुरू कर दी है।

कल स्कूल गई छात्रा नीतू दोपहर में स्कूल की तीसरी मंजिल पर शौचालय में गई थी। किसी ने अचानक उसे धक्का दे दिया जिससे गिरकर उसकी मौत हो गई। इस घटना के बाद स्कूल बन कर दिया गया। नीतू को धक्का देकर किसने नीचे गिराया, यह रहस्य बना हुआ है। हालांकि परिवार के लोगों की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। आज पुलिस स्कूल पहुंची घटनास्थल का दोबारा मुआयना किया।

उलझती जा रही नीतू की मौत के मामले की गुत्थी

देवरिया जिले में माडर्न सिटी मांटेसरी स्कूल की नौवी की छात्रा नीतू की मौत के मामले की गुत्‍थी उलझती जा रही है। विद्यालय परिसर में जहां क्राइम ब्रांच की टीम पहुंची, वहीं दूसरी तरफ जिला विद्यालय निरीक्षक और जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी के नेतृत्‍व मे भी विभागीय टीम जांच करने के लिए पहुंची।

सोमवार को दोपहर में नीतू की स्‍कूल की नीसरी मंजिल से गिरकर गंभीर रूप से घायल हो गई। कुछ देर बाद मौत हो गई। घायलावस्था में उसने परिजनों को बताया था कि तीसरी मंजिल पर स्थित बाथरूम में वह गई थी। पीछे से किसी ने धक्का दे दिया। छात्रा की मौत के बाद विद्यालय बंद कर दिया गया। पुलिस ने इस मामले में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। घटना के खुलासे के लिए पुलिस अधीक्षक ने कई टीमों का गठन किया है।

मंगलवार की सुबह क्राइम ब्रांच के प्रभारी अनिल यादव व महिला थानाध्यक्ष शोभा सिंह घटनास्‍थल पर पहुंची। इस दौरान कई लोगों से पुलिस ने पूछताछ की और नीतू के सहेलियों के बारे में जानकारी ली। क्राइम ब्रांच की टीम ने विद्यालय पर महिला सिपाहियों की तैनाती कर दी है, जो आसपास के घरों में जाकर महिलाओं से बातचीत कर घटना के बारे में तथ्य जुटा रही हैं।

क्राइम ब्रांच की टीम घंटों उसके सहेलियों के बारे में भी लोगों से जानकारी लेने के साथ विद्यालय में अच्छा मोबाइल लेकर चलने वाले छात्रों व अन्य लोगों के बारे में भी जानकारी ली। इसके अलावा घटनास्‍थल पर फोरेसिंग विभाग की टीम भी पहुंची और एक-एक नमूना को एकत्रित किया। साथ ही छात्रा के जूते निशान की भी जांच की। उधर जिलाधिकारी सुजीत कुमार के निर्देश पर एसडीएम सदर राकेश सिंह के साथ डीआइओएस शिवचन राम व जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी उपेंद्र कुमार मंगलवार की सुबह ही पहुंचे। उन्‍होंने विद्यालय भवन और उसकी स्थिति के बारे में जानकारी ली।

By

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.