जब बेनामी संपत्ति मामले में तेजस्वी पर ईडी ने दागे यह प्रमुख सवाल, आज राबड़ी की बारी

0
411

रेलवे होटल आवंटन में अनियमितता के मामले में सीबीआई के सवालों का जवाब देने के बाद मंगलवार को मनी लाॅन्ड्रिंग मामले में पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष पेश हुए.

दिन के करीब 12:30 बजे तेजस्वी दिल्ली स्थित ईडी के दफ्तर पहुंचे. कुछ देर की पूछताछ के बादतेजस्वी को 1:30 बजे खाना दिया गया और फिर पूछताछ का सिलसिला शुरू हो गया. तेजस्वी से बेनामी संपत्ति मामले में लगभग सात घंटे तक पूछताछ की गयी. इस तेजस्वी के बयान को दर्ज भी किया गया. इसी मामले में बुधवार को उनकी मां व पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी भी पेश होंगी.

सूत्रों का कहना है कि सीबीआई ने तेजस्वी से पूछे गये सवालों की जानकारी ईडी काे दी थी और कमोबेश वैसे ही सवाल तेजस्वी से पूछे गये. पूछताछ में उनसे डिलाइट मार्केटिंग कंपनी के कामकाज और उसमें हिस्सेदारी को लेकर सवाल किये गये.

तेजस्वी से बैंक खातों के विवरण और एबी एक्सपोर्ट कंपनी को लेकर भी सवाल-जवाब किया गया. इसी कंपनी के नाम पर दिल्ली के न्यू फ्रेंडस कॉलोनी में घर खरीदा गया है. तेजस्वी ने सीबीआई की तरह ईडी के अधिकारियों को भी हां और ना में जवाब दिया.

गौरतलब है कि इस होटल टेंडर मामले में शुक्रवार को ही तेजस्वी सीबीआई के सामने पेश हो चुके हैं. ईडी ने प्रीवेंशन ऑफ मनी लाॅन्ड्रिंग एक्ट के प्रावधानों के तहत लालू प्रसाद के परिवार के सदस्यों और अन्य के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज किया है. ईडी इस मामले में राजद सांसद प्रेमचंद गुप्ता की पत्नी सरला गुप्ता और अन्य लोगों से पूछताछ कर चुकी है.

पूछे गये कुछ प्रमुख सवाल

इतनी कम उम्र में इतनी संपत्ति कैसे आयी,कितनी गिफ्ट में मिलीं?
कितने बैंक खाते हैं व उनका ब्योरा क्या है? आधार नंबर क्या है?
सरला गुप्ता से क्या कारोबारी रिश्ते हैं और डिलाइट मार्केटिंग कंपनी पर स्वामित्व कैसे आया?
क्या कोचर बंधु काे जानते हैं? बाजार दर से कम पर आपके परिवार को यह जमीन किसके इशारे पर दी गयी, पैसे का स्रोत क्या है?
क्या आपने यह संपत्ति खुद खरीदी है या परिवार के किसी सदस्य ने इसमें मदद की है?
एबी एक्सपोर्ट कंपनी क्या काम करती है?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.