न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट ने की युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ की तारीफ

0
739

न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट ने युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ की तारीफ करते हुए कहा कि मुंबई के दायें हाथ के इस बल्लेबाज का भविष्य उज्जवल है. पृथ्वी ने बोर्ड अध्यक्ष एकादश की ओर से 66 रन की पारी खेली जिससे टीम ने पहले अभ्यास मैच में न्यूजीलैंड को 30 रन से हराया. बोल्ट ने मैच के बाद कहा, ‘‘मैंने सुना कि वह 17 साल का है, मुझे इस पर विश्वास नहीं हुआ. वह काफी अच्छा खेला. मुझे लगता है कि शुरू में गेंद अच्छी स्विंग हो रही थी और ऐसा नहीं लगा कि वह इससे परेशान है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘वह संभवत: उन कई खिलाड़ियों में शामिल है, जिनका भविष्य उज्जवल है, अगर सभी चीजें सही रही तो. लेकिन पहली बार देखकर काफी प्रभावित हूं।’’

लोकेश राहुल और करुण नायर कर्नाटक की रणजी टीम में शामिल

मैच में पांच विकेट चटकाने वाले बोल्ट ने कहा कि मैच में जीत दर्ज नहीं कर पाना निराशाजनक है. इस तेज गेंदबाज ने कहा, ‘‘यहां के हालात से दोबारा सामंजस्य बैठाना संतोषजनक है. आज दोपहर बाद काफी ज्यादा गर्मी नहीं थी लेकिन जीत दर्ज नहीं कर पाना निराशाजनक ह.’’ बोल्ट ने कहा कि पारी की शुरुआत में विकेट हासिल करना महत्वपूर्ण होगा.
उन्होंने कहा, ‘‘अगर आप पहले पावर प्ले में दो या तीन विकेट हासिल कर लेते हो तो इससे विरोधी टीम पर दबाव डाला जा सकता है और मैच में दबदबा बनाया जा सकता है। लेकिन वे अच्छा खेले.’’ इस तेज गेंदबाज ने कहा कि अच्छी टीमों के खिलाफ खेलते हुए गलती की गुंजाइश काफी कम होती है.

मेरे लिए अब तक का सबसे खराब फैसला, लड़ाई जारी रखूंगा: श्रीसंत

उन्होंने कहा, ‘‘यह हमारे लिए बहुत बड़ी चुनौती है कि काफी अच्छी फार्म में चल रही टीम को हराकर उलटफेर करें. आपको हमेशा सटीक होना होगा, गलती की गुंजाइश काफी कम है. बल्लेबाज काफी प्रतिभावान हैं, वे बाउंड्री लगाना पसंद करते हैं और वे आपकी सर्वश्रेष्ठ गेंदों पर भी बाउंड्री लगाने में सक्षम हैं. इसलिए सटीकता होनी चाहिए.’’ मैच में 46 रन देकर एक विकेट चटकाने वाले लेग स्पिनर कर्ण शर्मा ने कहा कि उनके लिए टीम की जीत अधिक महत्वपूर्ण है.

टी-20 में भारत की हार के पीछे की वजह बताई सुनील गावस्कर ने
उन्होंने कहा, ‘‘मैं अच्छी गेंदबाजी कर रहा हूं और विकेट भी हासिल कर रहा हूं. यह महत्वपूर्ण है कि टीम जीत रही है.’’ आस्ट्रेलिया के खिलाफ 2014 में टेस्ट खेलने वाले कर्ण का मानना है कि उन्होंने अपनी गलतियों से सीखा है. उन्होंने कहा, ‘‘एडिलेड टेस्ट में खेलना अतीत की बात है. व्यक्ति अपनी गलतियों से सीखता है और मैं अपनी गेंदबाजी पर काम करने और विविधता लाने का प्रयास कर रहा हूं. पिछले दो साल में मेरे अंदर काफी बदलाव (गेंदबाज के रूप में) आया है और मैंने (नरेंद्र) हिरवानी तथा अन्य कोचों से बात की.’’ इस बीच ग्रोइन में चोट लगा बैठे न्यूजीलैंड के आलराउंडर टाम एस्टल का अगले 24 घंटे में आकलन किया जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.