गुजरात चुनाव- प्राची में PM मोदी बोले, सरदार पटेल नहीं होते तो सोमनाथ मंदिर नहीं होता

0
327

SPK News desk, गुजरात में चुनावी घमासान अपने चरम पर है.प्राची पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह प्रचार अभियान का मेरा दूसरा दिन है. मैंने सौराष्ट्र और दक्षिण गुजरात की यात्रा की है. यहां लोगों में उत्साह उल्लेखनीय है. मैं देख सकता हूं कि कितनी सारी महिलाएं हमें आशीर्वाद देने आई हैं. यदि कोई सरदार पटेल नहीं होते, तो सोमनाथ में मंदिर कभी संभव नहीं होता. आज कुछ लोग सोमनाथ को याद कर रहे हैं, मुझे उनसे पूछना है, क्या आप अपना इतिहास भूल गए हैं? आपके परिवार के सदस्य, हमारे पहले प्रधानमंत्री वहां पर एक मंदिर बनने के विचार से खुश नहीं थे. इससेे पहले मोरबी में पीएम मोदी ने कहा कि अच्‍छा हो या बुरा समय जनसंघ और बीजेपी हमेशा मोरबी के लोगों के साथ खड़ा रहा है. ये बात कोई कांग्रेस और उसके नेताओं के बारे में नहीं कह सकता है. पीएम मोदी ने कहा कि मोरबी से सुख-दुख का नाता है. पीएम मोदी ने कहा कि जब मोरबी में इंदिरा बहन आईं थी तो बदबू के चलते उन्‍होंने नाक पर रूमाल रख लिया था. लेकिन जनसंघ और आरएसएस के लिए मोरबी की सड़कें खुशबू है, यह इंसानियत की खुशबू है. उन्‍होंने कहा कि हमने पानी की हर बूंद बचाने के लिए गुजरात में अभियान चलाया क्योंकि हममें पता है कि पानी की कमी से क्‍या होता है. हमारे लिए विकास चुनाव जीतना नहीं है बल्कि लोगों की सेवा करना है. बीजेपी ने हमेशा मोरबी के लोगों के लिए काम किया है.
बुधवार को फिर चार रैलियों को संबोधित करेंगे. पीएम मोदी की रैली राजकोट के मोरबी, सोमनाथ के प्राची, भावनगर के पालिताना और दक्षिणी गुजरात के नवसारी में है. गौरतलब है कि सोमवार को रैली के दौरान पीएम मोदी ने भुज में रैली के दौरान कांग्रेस पर कई हमले किए. उन्‍होंने कहा कि यह चुनाव विकास पर विश्वास और वंशवाद की राजनीति के बीच हो रहे हैं और प्रदेश की जनता गुजरात के बेटे के खिलाफ झूठ फैलाने के कांग्रेस पार्टी के प्रयास को बर्दाश्त नहीं करेगी. प्रधानमंत्री ने कहा कि गुजरात में जहां एक ओर विकास में विश्वास है वहीं दूसरी ओर वंशवाद है. गुजरात की जनता ने कभी कांग्रेस को स्वीकार नहीं किया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.