दक्षिण अफ्रीकी दिग्गज स्मिथ ने कहा, ‘विराट और पुजारा से रहना होगा मेजबान टीम को सतर्क’

0
434

नई दिल्ली: पूर्व कप्तान ग्रीम स्मिथ का मानना है कि दक्षिण अफ्रीका का ‘मजबूत’ गेंदबाजी आक्रमण केपटाउन में पांच जनवरी से शुरू हो रही आगामी टेस्ट श्रृंखला में भारतीय बल्लेबाजी क्रम को दबाव में डालेगा.

दुनिया की नंबर एक टीम भारत और नंबर दो टीम दक्षिण अफ्रीका के बीच दक्षिण अफ्रीका में होने वाले इस मुकाबले के काफी रोमांचक होने की उम्मीद की जा रही है और स्मिथ का मानना है कि दो सत्र पहले भारत में 0-3 की हार के बाद मेजबान टीम अतिरिक्त प्रेरित होगी.

स्मिथ ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि दक्षिण अफ्रीका की टीम काफी मजबूत होगी. एबी डिविलियर्स की वापसी से उनकी टीम काफी मजबूत नजर आती है. गेंदबाजी भी काफी मजबूत है. उनके पास चुनने के लिए चार बेहतरीन अनुभवी तेज गेंदबाज हैं और कुछ युवा तेज गेंदबाज भी.’’

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि वे तीन तेज गेंदबाजों और एक स्पिनर (केशव महाराज) तथा छह बल्लेबाजों के साथ उतरेंगे जबकि क्विंटन डिकाक सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करेगा. यह उनका बल्लेबाजी क्रम होगा और मुझे लगता है कि यह काफी मजबूत है.’’ स्मिथ का हालांकि मानना है कि बिना अभ्यास मैच के टेस्ट श्रृंखला के खेलने वाले भारत के लिए पहले टेस्ट का आयोजन केपटाउन में फायदेमंद हो सकता है.

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि केपटाउन में भारत के पास सर्वश्रेष्ठ मौका होगा. दक्षिण अफ्रीका में गेंद का मूवमेंट इतना अधिक परेशान नहीं करता, जो चुनौती पैदा करता है वह अतिरिक्त उछाल है. मैं उम्मीद करता हूं कि विकेट पर काफी मूवमेंट नहीं होगी और धीमा उछाल होगा और खेल के आगे बढ़ने पर स्पिनरों को कुछ मदद मिलेगी.’’ चार साल पहले घरेलू सरजमीं पर भारत के खिलाफ 1-0 से श्रृंखला जीतने वाले दक्षिण अफ्रीका के महानतम कप्तानों में से एक स्मिथ ने कहा, ‘‘प्रिटोरिया (दूसरा टेस्ट) और जोहानिसबर्ग (तीसरा टेस्ट) भारतीय टीम के लिए बड़ी चुनौती होगी.’’

विराट कोहली की अगुआई वाली भारतीय टीम बेहतरीन फार्म में है और लगातार नौ श्रृंखला जीत चुकी है. इनमें से अधिकांश जीत हालांकि उप महाद्वीप में हासिल की गई. भारत ने जब पिछली बार दक्षिण अफ्रीका दौरा किया था तो कप्तान कोहली, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे अच्छी फार्म में थे जबकि रोहित शर्मा और शिखर धवन को जूझना पड़ा था.

स्मिथ के अनुसार धवन और रोहित अब कहीं बेहतर खिलाड़ी हैं लेकिन डेल स्टेन, मोर्ने मोर्कल, वर्नन फिलेंडर और कागिसो रबादा जैसे खिलाड़ियों वाले दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाजी आक्रमण के सामने कोहली और पुजारा अहम बल्लेबाज होंगे.

उन्होंने कहा, ‘‘पुजारा और कोहली महत्वपूर्ण बल्लेबाज होंगे. ये दो खिलाड़ी पिछली बार अच्छा खेले थे इसलिए वे महत्वपूर्ण होंगे.’’ उमेश यादव, मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा, भुवनेश्वर कुमार और पहली बार टीम में जगह बनाने वाले जसप्रीत बुमराह के तेज गेंदबाजी आक्रमण पर स्मिथ ने कहा, ‘‘भारत को अगर सफल होना है तो उनके तीन तेज गेंदबाजों को काफी अच्छी गेंदबाजी करने की जरूरत है. सभी भारतीय तेज गेंदबाजों की बात कर रहे हैं. मुझे लगता है कि अंतर स्पैल में होगा.’’

उन्होंने कहा, ‘‘भारत में वे छोटे स्पैल फेंकते हैं और प्रभाव छोड़ने की कोशिश करते हैं लेकिन दक्षिण में उन्हें दबाव में कहीं अधिक जिम्मेदारी निभानी होगी और लंबे स्पैल फेंकने होंगे. तेज गेंदबाजों को भारत को मैच जिताने होंगे. उप महाद्वीप की तुलना में मानसिकता बिलकुल अलग होगी और यह देखना होगा कि क्या वे इससे निपटकर जिम्मेदारी निभा पाते हैं या नहीं.’’ स्मिथ मेजबान टीम की हौसलाअफजाई कर रहे हैं लेकिन उन्होंने कहा कि वे श्रृंखला के नतीजे की भविष्यवाणी नहीं कर सकते.

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि यह कोहली के नेतृत्व में अगली बड़ी चुनौती होगी. उन्होंने उपमहाद्वीप में काफी श्रृंखला जीती और अगर उन्हें इस पीढ़ी की शीर्ष टीम में से एक बनना है तो दक्षिण अफ्रीका में अच्छा प्रदर्शन करना होगा.’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.