आतंकवाद: पाकिस्तान को आतंकी संगठनों के खिलाफ एक्शन लेने के लिए राजी करेगा चीन, अमेरिका ने किया दावा

0
700

अमेरिका ने पिछले दिनों पाकिस्तान को दी जाने वाली सैन्य मदद को बंद कर दिया है। अब अमेरिका का कहना है कि पाकिस्तान में मौजूद आतंकी पनाहगाहों को खत्म करने के लिए चीन मददगार साबित हो सकता है। व्हाइट हाउस की ओर से इस बाबत एक बयान दिया गया है। एक अधिकारी की ओर से कहा गया है कि चीन, पाकिस्तान को आतंकी पनाहगाहों को खत्म करने के लिए राजी कर सकता है।
व्हाइट हाउस के एक अधिकारी ने अपना नाम ना जाहिर करने की शर्त पर कहा कि आतंकी पनाहगाहों के सिलसिले में अमेरिका की परेशानी को चीन भी समझता है। अमेरिका भी चाहता है कि चीन और क्षेत्र के दूसरे अहम देश पाकिस्तान को आतंकी पनाहगाहों को तबाह करने के लिए राजी करें। आपको बता दें कि आतंकवाद को लेकर डोनाल्ड ट्रम्प ने पाकिस्तान की मदद रोक दी है। जिसके बाद दोनों देशों में तल्ख बयानबाजी हो रही है।
व्हाइट हाउस के अधिकारी ने कहा कि पिछले कई साल से पाकिस्तान और चीन के ऐतिहासिक रिश्ते हैं। चीन पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर (सीपीईसी) के चलते ये रिश्ते इकोनॉमिक रिश्ते और ज्यादा गहरे हुए हैं। लेकिन, पाकिस्तान में आतंकवाद की समस्या को लेकर अमेरिका की परेशानी को चीन भी समझता है। ऐसे में चीन अहम क्षेत्रीय खिलाड़ी साबित हो सकता है जो इस मसले को सुलझाए। पाकिस्तान में आतंकियों की पनाहगाह होने से चीन का मकसद भी पूरा नहीं होगा। पाक और अफगानिस्तान के बीच में रिश्ते बेहतर करने में चीन का अहम रोल होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.