मोदी-नेतन्याहू की बैठक में भारत-इजारइल के बीच 9 करार हुए, दोनों देशों से जुड़े मुद्दों पर हुई बातचीत

0
510

नई दिल्ली: दिल्ली के हैदराबाद हाउस में मोदी और नेतन्याहू के बीच बैठक में 9 मुद्दों पर करार हुए हैं. इस दौरान दोनों देशों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत हुई. बैठके बाद साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीएम मोदी ने कहा कि हमने मिलकर रक्षा क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने कै फैसला किया है.
इजराइल के साथ साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीएम मोदी ने कहा- हमारी चर्चा का उद्देश्य इस रिश्ते को नई ऊंचाई पर ले जाना रहा है. हमने मिलकर रक्षा क्षेत्र में सहयोग को आगे बढ़ाने का फैसला किया.
मोदी ने इजराइल के पीएम को मेरे दोस्त Bibi कहकर पुकारा. bIBI इजराइल के पीएम का निकनेम है.
पेट्रोलिमय को लेकर दोनों देशों के बीच करार हुआ.
इससे पहले, इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू को उनके दौरे के दूसरे दिन सुबह 10 बजे राष्ट्रपति भवन में औपचारिक स्वागत किया गया. इस मौके पर राष्ट्रपति भवन में बेंजामिन नेतन्याहू को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया. इस औपचारिक स्वागत के बाद बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा कि तरक्की के लिए भारत से दोस्ती है.
इस मुलाकात के दौरान बेंजामिन नेतन्याहू ने प्रोटोकॉल तोड़कर अपने प्रतिनिधिमंडल का परिचय खुद पीएम मोदी से कराया. जबकि परंपरा के मुताबिक ये काम चीफ प्रोटोकॉल कराते हैं.
राष्ट्रपति भवन में हुए स्वागत के बाद नेतन्याहू महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देने के लिए राजघाट चले गए. इसके बाद दोपहर 12 नेतन्याहू और पीएम मोदी के बीच द्विपक्षीय मुलाकात होगी. वहीं, शाम पांच बजकर 45 मिनट पर नेतन्याहू राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलेंगे.
आपको बता दें कि नेतन्याहू के छह दिन के भारत दौरे का आज दूसरा दिन है. कल प्रोटोकॉल तोड़कर खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पीएम नेतन्याहू को रिसीव करने एयरपोर्ट गए थे. आज मोदी और नेतन्याहू द्विपक्षीय बातचीत के दौरान आधा दर्जन समझौतों पर हस्ताक्षर करेंगे.
इजराइल के पीएम के साथ बेबी मोशे भी आया भारत, मुंबई हमले से जुड़ा है जख्‍म
प्रधानमंत्री नेतन्याहू का ये दौरा और छह महीने के अंदर दोनों नेताओं की गर्मजोशी से भरी मुलाकात महज एक रस्म या वादा नहीं, बल्कि दोनों देशों की रणनीतिक साझेदारी को नए पायदान पर ले जाने के इरादे का सबूत भी है.
दोनों देशों की दोस्ती की 25वीं सालगिरह पर पीएम मोदी और नेतन्याहू की मुलाकात में उम्मीद की जा रही है कि भारत के विकास की चुनौतियों से मुकाबले के लिए इज़राइल अपनी तकनीकी महारत और इनोवेशन के नए फॉर्मूले सुझाएगा.
दोनों देश के पीएम के ट्वीट्स से समझिए, भारत-इजराइल में कितने करीबी रिश्ते हैं
आज होने वाली द्विपक्षीय वार्ता में करीब आधा दर्जन समझौते होने की उम्मीद है. इसमें सैन्य सहयोग, कृषि से लेकर कारोबार तक बात होगी. वहीं तेल और गैस के क्षेत्र में सहयोग पर करार भी होगा. इसके अलावा गैर पारंपरिक ऊर्जा क्षेत्र, संयुक्त औद्योगिक अनुसंधान और विकास पर सहयोग और साइबर सुरक्षा पर करार होने की उम्मीद है.
तीन मूर्ति चौक का नाम इस्राइली शहर हाइफा के नाम पर रखा गया
सूत्रों की माने तो भारत की ओर से रद्द किए गए 500 मिलियन डॉलर के स्पाइक एन्टी-टैंक गाइडेड मिसाइल सौदे को पर बीच का रास्ता निकालने की कोशिश होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.