सेंचुरियन में दीवार बने कोहली, ठोका 21वां टेस्ट शतक

0
696

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच 3 मैचों की टेस्ट सीरीज का दूसरा मुकाबला सेंचुरियन के सुपरस्पोर्ट्स पार्क स्टेडियम में खेला जा रहा है. टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी साउथ अफ्रीका की टीम 335 रन बनाकर ऑल आउट हो गई. जवाब में भारत ने 6 विकेट गंवा कर 232 रन बना लिए हैं. रविचंद्रन अश्विन (22) और विराट कोहली (104) क्रीज पर हैं.
भारतीय कप्तान विराट कोहली ने अपने टेस्ट करियर का 21वां शतक जड़ दिया है. टीम इंडिया को अब उनसे बड़े स्कोर की उम्मीद है. विराट कोहली सचिन तेंदुलकर के बाद दूसरे ऐसे भारतीय बल्लेबाज हैं, जिन्होंने साउथ अफ्रीका की धरती पर 2 या उससे ज्यादा शतक लगाए हैं. अफ्रीका में मास्टर ब्लास्टर ने सबसे ज्यादा 5 शतक लगाए हैं.
साउथ अफ्रीका की पहली पारी 335 पर सिमटी
साउथ अफ्रीका की टीम अपनी पहली पारी में 335 रनों पर ऑल आउट हो गई. साउथ अफ्रीका की ओर से एडेन मार्करम ने सबसे ज्यादा 94 रन बनाए जबकि हाशिम अमला ने 82 रनों की पारी खेली. इसके अलावा कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने 63 रन बनाए. रविचंद्रन अश्विन ने सबसे ज्यादा 4 विकेट लिए. ईशांत को तीन और शमी को एक सफलता मिली.
शमी ने पूरे लिए 100 टेस्ट विकेट
मोहम्मद शमी ने केशव महाराज (18) को 282 के स्कोर पर विकेट के पीछे पार्थिव पटेल के हाथों कैच कराया. इसी के साथ उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में अपने 100 विकेट पूरे कर लिए. शमी टेस्ट में विकेटों का शतक लगाने वाले 21वें भारतीय गेंदबाज बन गए हैं. वहीं वह इस मुकाम को हासिल करने वाले भारत के सातवें तेज गेंदबाज हैं. शमी ने 29वें मैच में यह उपलब्धी हासिल की.
साउथ अफ्रीका के विकेट्स
अश्विन ने डीन एल्गर (31) को आउट कर भारत को पहली सफलता दिलाई. उन्होंने एल्गर को मुरली विजय के हाथों कैच करा दिया. इसके अलावा अश्विन ने एडेन मार्करम (94) को शतक पूरा करने से रोक दिया.
मार्करम अपने शतक से छह रन दूर थे तभी अश्विन की गेंद उनके बल्ले का किनारा लेकर विकेटकीपर पार्थिव पटेल के हाथों में जा समाई. मार्करम ने अपनी पारी में 150 गेंदों का सामना करते हुए 15 चौके लगाए हैं.
ईशांत शर्मा ने साउथ अफ्रीका को तीसरा झटका दिया, जब उन्होंने खतरनाक दिख रहे डिविलियर्स (20) को बोल्ड कर पवेलियन लौटा दिया. हार्दिक पंड्या ने हाशिम अमला (82) को रन आउट कर साउथ अफ्रीका को चौथा झटका दे दिया.
इसके बाद क्रीज पर आए नए बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक (0) भी बिना खाता खोले अश्विन की गेंद पर विराट कोहली द्वारा लपके गए. डी कॉक के बाद आए वर्नोन फिलेंडर (0) भी बिना खाता खोले रन आउट होकर पवेलियन लौट गए.
मोहम्मद शमी ने केशव महाराज (18) को विकेट के पीछे पार्थिव पटेल के हाथों कैच करा कर साउथ अफ्रीका को सातवां झटका दिया. इसके बाद डु प्लेसिस को कैगिसो रबाडा (11) का साथ मिला और दोनों ने टीम का स्कोर 324 तक पहुंचा दिया. ईशांत शर्मा की गेंद पर हार्दिक पंड्या के हाथों लपके जाने से पहले रबाडा को कोहली ने रविचंद्रन अश्विन की गेंद पर स्लिप में विराट कोहली ने जीवनदान दिया.
फाफ डु प्लेसिस की पारी का अंत ईशांत ने उन्हें बोल्ड कर किया. डु प्लेसिस ने अपनी पारी में नौ चौके लगाए. मोर्ने मोर्केल (6) को अश्विन ने मुरली विजय के हाथों कैच करा मेजबान टीम की पारी का अंत किया.
अफ्रीका ने जीता टॉस
साउथ अफ्रीका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया और टीम इंडिया को गेंदबाजी दी. भारतीय टीम में तीन बदलाव हुए हैं. शिखर धवन, ऋद्धिमान साहा और भुवनेश्वर कुमार की जगह लोकेश राहुल, पार्थिव पटेल और ईशांत शर्मा को मौका मिला है.
अजिंक्य रहाणे को एक बार फिर नजर अंदाज किया गया है. वहीं अफ्रीकी टीम में चोटिल होकर सीरीज से बाहर हुए डेल स्टेन की जगह लुंगी नगीदी को डेब्यू का मौका मिला है.
अगर भारत को साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में हार से बचना है, तो उसे सेंचुरियन के टेस्ट को हर हाल में पास करना होगा. बता दें कि केपटाउन के न्यूलैंड्स क्रिकटे मैदान पर खेले गए पहले टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका ने भारत को 72 रनों से हराकर सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल की थी.
दांव पर है ये रिकॉर्ड
लगातार 9 सीरीज जीतने का भारत का रिकॉर्ड दांव पर है. मेजबान टीम ने पहला टेस्ट 72 रनों से जीतकर तीन मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त बना ली है. भारत को 2018-19 में विदेशी धरती पर 12 टेस्ट खेलने हैं और यह उनमें से दूसरा ही टेस्ट है. भारत को सीरीज में बने रहने के लिए यह टेस्ट हर हालत में जीतना होगा.
दक्षिण अफ्रीका अगर 2-0 की बढ़त बना भी लेता है, तो भारत की नंबर-1 टेस्ट रैंकिंग पर असर नहीं पड़ेगा, लेकिन भारतीय टीम को स्वदेश में काफी आलोचना का सामना करना पड़ेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.