कोहली की ‘विराट’ कामयाबी, इस मामले में 39 साल बाद की गावस्कर की बराबरी

0
553

दुबई। आईसीसी क्रिकेटर ऑफ द इयर चुने जाने के बाद कोहली को ‘विराट’ कामयाबी मिली है। पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर के बाद कोहली ऐसे दूसरे भारतीय क्रिकेटर बन गए हैं, जो आईसीसी टेस्ट बल्लेबाजों की रैंकिंग में 900 रेटिंग अंकों के आंकड़े तक पहुंचे हैं।
आईसीसी क्रिकेट हॉल ऑफ फेम में शामिल गावस्कर ओवल में 1979 में अपने 50वें टेस्ट में 12 और 221 रन की पारी के दम पर 887 रेटिंग अंक से 916 अंक तक पहुंचे थे, जो उनके करियर की सर्वश्रेष्ठ रेटिंग थी। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सेंचुरियन टेस्ट में 21वां शतक लगाकर कोहली ने यह उपलब्धि अपने 65वें टेस्ट में हासिल की। मैच से पहले उनके 880 अंक थे, जो 153 और पांच रन की उनकी पारियों के बाद 900 हो गए।
सचिन, द्रविड़ 900 रेटिंग अंक छूने से चूके थे-
इससे पहले सचिन तेंडुलकर (898, 2002) और राहुल द्रविड़ (892, 2005) दो अन्य भारतीय बल्लेबाज हैं, जो 900 अंकों के आंकड़े के सबसे करीब पहुंचे थे, लेकिन कभी उसे पार नहीं कर सके। कोहली इस उपलब्धि को हासिल करने वाले टेस्ट इतिहास के 31वें बल्लेबाज हैं। इस तालिका में 961 अंक के साथ डॉन ब्रेडमैन शीर्ष पर हैं। उनके बाद स्टीव स्मिथ (947), लेन हटन (945), रिकी पोंटिंग और जैक हॉब्स (दोनों 942) का नंबर आता है।
इस दौरान कोहली इंग्लैंड के कप्तान जो रूट की जगह दूसरे स्थान पर आ गए। कोहली पहले स्थान पर काबिज स्मिथ से 47 अंक पीछे हैं, जबकि वह रूट से 19 अंक आगे हैं। चौथे स्थान पर काबिज केन विलियम्सन रूट से 26 अंक पीछे हैं। गेंदबाजों की रैंकिंग में कैगिसो रबाडा सिर्फ एक टेस्ट के बाद शीर्ष से दूसरे स्थान पर खिसक गए।
पिछले टेस्ट में औसत प्रदर्शन के कारण उन्हें 16 अंकों का नुकसान हुआ और शीर्ष पर काबिज एंडरसन से उनके 15 अंक कम हैं।
शीर्ष-10 में शामिल रविचंद्रन अश्विन (5वें) और वर्नोन फिलेंडर (7वें) भी एक-एक स्थान नीचे खिसक गए हैं। पिछले टेस्ट में पांच विकेट लेने वाले मोहम्मद शमी सर्वश्रेष्ठ 17वें स्थान पर आ गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.