बिहार के सिनेमाघरों में क्या कल दिखायी जाएगी ‘पद्मावत’ अबतक संशय

0
647

पटना। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद 25 जनवरी को रिलीज हो रही चर्चित फिल्म ‘पद्मावत’ को लेकर बिहार में भी हो रहे विरोध प्रदर्शन को देखते हुए राज्य पुलिस मुख्यालय ने राज्य के सभी जिलों को ‘अलर्ट’ जारी किया है। इसे लेकर राज्य के विभिन्न सिनेमाघरों में भी काफी सतर्कता बरती जा रही है।

पटना के मुख्य सिनेमाहॉल में कहीं भी पद्मावत के पोस्ट नजर नहीं लगाए गए हैं। वहीं, सिनेमा मालिकों का कहना है कि हम कल फिल्म रिलीज करेंगे या नहीं ये अभी तय नहीं है। मिली जानकारी के मुताबिक फिल्म के टिकटों की बुकिंग भी कल बंद कर दी गई थी, आज भी इसकी बुकिंग नहीं हो रही है।

हाजीपुर में आज फिल्म पद्मावत के प्रदर्शन पर रोक लगाने की मांग को लेकर लालगंज में विभिन्न हिंदू संगठन से जुड़े लोगों ने सड़क जामकर जमकर हंगामा मचाया। नारे बाजी के बाद लोगों ने कई जगहों पर टायर जला कर सड़क जाम किया।

फिल्म के विरोध में हंगामे की आशंका को लेकर पुलिस मुख्यालय ने सभी जिलों के एसपी को विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं। डीजीपी पीके ठाकुर ने मंगलवार को बताया कि बिहार पुलिस सर्वोच्च न्यायालय के आदेश का पूर्णरूप से पालन करेगी।

सभी एसपी को निर्देश दिया गया है कि हंगामे की आशंका को लेकर फिल्म दिखाने वाले सभी सिनेमा हॉल व सभी संवेदनशील स्थलों पर अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती जाए।

वहीं बिहार फिल्म एग्जीविटर एसोसिएशन ने भी इस मामले में हाथ खड़ा कर दिया है और इसके साथ ही रिप्रजेंटिव एसोसिएशन ने भी सहयोग करने से अपना पीछा छुड़ा लिया है। बता दें कि बिहार के 63 सिनेमा हॉल के लिए फिल्म बुक हुई थी, लेकिन सभी बुकिंग फिलहाल के लिए कैंसिल कर दी गई है।

पटना

विवादों के कारण पद्मावत कल यानि 25 जनवरी को पटना में रिलीज होगा या नहीं, इसपर आशंका बनी हुई है। क्योंकि मिली जानकारी के मुताबिक पटना में सिनेपोलिस, मोना और रिजेंट टॉकीज ने स्पष्ट कर दिया है कि इस फिल्म को 25 को नहीं लगाएंगे।
वहीं राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के प्रदेश अध्यक्ष धीरेंद्र सिंह ने मंगलवार को ऐलान किया था कि बिहार में पद्मावत को नहीं चलने देंगे। इसके लिए चाहे जो करना पड़े हम करेंगे।

इस तरह की आशंकाओं को देखते हुए कुछ कहा नहीं जा सकता कि फिल्म सिनेमाघरों में लगेगी या नहीं। हालांकि फिल्म पद्मावत देश के विभिन्न हिस्सों में 25 जनवरी को ही रिलीज हो रही है और कुछ जगहों पर आज भी दिखाई जा सकती है।

बिहार में पद्मावत को लेकर विरोध को देखते हुए सिनेमाघर मालिक दहशत में हैं और एक प्रमुख सिनेमाघर ने फिल्म की आॅनलाइन एडवांस बुकिंग भी शुरू की लेकिन जब कुछ लोग सोमवार को सिनेमाघर पहुंच गए और विरोध करने लगे तो प्रबंधन ने बुकिंग ही बंद कर दी।

बक्सर

फिल्म पदमावत की स्क्रीनिंग पर उच्चतम न्यायालय से रोक हटने के बावजूद जिले में सिनेमा प्रेमी शायद नहीं देख पाएं। क्षत्रिय महासभा ने जिले के सभी सिनेमाघरों के मालिकों को पत्र लिखकर इस फिल्म की स्क्रीनिंग नहीं करने को कहा है।इस संबंध में महासभा के नेता सिनेमा मालिकों से मिलकर भी अपनी बात रखी है।

बताते चलें कि फिल्म पदमावत पर उच्चतम न्यायालय का फैसला आने के बाद 25 को उसे देशभर में रिलीज करने की तैयारी हो रही है। क्षत्रिय महासभा के जिलाध्यक्ष इंद्रजीत बहादुर सिंह ने कहा कि क्षत्रिय समाज तथ्यों को तोड़-मरोड़ कर पेश की गई इस फिल्म को बक्सर में रिलीज नहीं होने देना चाहता है।

गोपालगंज

फिल्म पद्मावत के विरोध में मंगलवार को क्षत्रिय महासभा के बैनर तले पद्मावती स्वाभिमान सेना के सदस्य सड़क पर उतर आए। सदस्यों ने शहर में जुलूस निकाल कर फिल्म पद्मावत के खिलाफ जमकर नारेबाजी किया। इस दौरान सिनेमा हॉल मालिकों से इस फिल्म को नहीं लगाने का अनुरोध करते हुए यह ऐलान किया गया कि किसी भी कीमत पर इस फिल्म को चलने नहीं दिया जाएगा।

रोहतास

पद्मावती के विरोध में क्षत्रिय महासभा व बजरंग दल ने विरोध प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शनकारी माता पद्मावती का अपमान नही सहेंगे का नारा लगाते हुए मुख्य बाजार के समीप सड़क जाम कर दिया।

नेतृत्व कर रहे उदय सिंह ने कहा कि अगर पद्मावती को सिनेमा घर में प्रदर्शित किया गया तो क्षत्रिय महासभा किसी भी कीमत पर सिनेमा को चलने नही देगा।

छपरा

महारानी पद्मावती के स्वाभिमान व सतित्व राजस्थान नहीं पूरे हिंदुस्तान के इतिहास का गौरवशाली अध्याय है। जिसके साथ फिल्म कार संजय लीला भंसाली छेड़छाड कर भारतीय धर्म व संस्कृति के साथ खिलवाड़ कर रहे है। इसे हिंदू समाज बर्दाश्त नहीं करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.