फरीदाबाद में 32वें सूरजकुंड मेले का आगाज आज से, CM योगी करेंगे उद्घाटन

0
515

शिल्प और कला का अंतरराष्ट्रीय संगम कहे जाने वाले सूरजकुंड मेले का शुक्रवार (2 फरवरी) से शानदार आगाज होने जा रहा है। 32वें अंतरराष्ट्रीय हस्तशिल्प मेले में इस बार उत्तर प्रदेश थीम राज्य होगा और किर्गिस्तान सहयाेगी देश के तौर पर हिस्सा ले रहा है।

हस्त शिल्पियों के इस महाकुंभ का शुभारंभ शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करेंगे। समारोह की अध्यक्षता हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल करेंगे।

32वें अंतरराष्ट्रीय सूरजकुंड हस्तशिल्प मेले में दो फरवरी (शुक्रवार) से देश-विदेश की कला-संस्कृति की खुशबू बिखरेगी। मेले में एक तरफ जहां विभिन्न देशों के कलाकार नृत्य व गायन से रंग जमाएंगे, वहीं थीम स्टेट उत्तर प्रदेश की विविध कलाओं का प्रदर्शन होगा।

महाकुंभ में इस वर्ष 1100 से ज्यादा शिल्पकारों को आमंत्रित किया गया है। पिछले वर्ष यह संख्या 1008 थी। इस बार 28 देश भागीदारी देंगे, जबकि पिछले वर्ष यह संख्या 23 थी। इस वर्ष 14 देशों के कलाकार सांस्कृतिक प्रस्तुतियां देंगे।

325 विदेशी भागीदारों में 82 हस्तशिल्पी शामिल हैं। बृहस्पतिवार को अधिकांश हस्तशिल्पियों ने अपने स्टाल पर सामान लगाना भी शुरू कर दिया था। दर्शक मेले में इस बार पर्यटक भारतीय और किर्गिस्तान के व्यंजनों का भी जायका ले पाएंगे। मेला 18 फरवरी तक चलेगा।

देशी के साथ विदेशी कलाकारों का होगा जलवा: मेला में टर्की, मोरक्को, थाईलैंड, सीरिया, श्रीलंका, तंजानिया, नीगर, नेपाल, इजिप्ट, दक्षिण अफ्रीका, अफगानिस्तान, न्यूजीलैंड, मालदीव, मॉरीसस, यूगांडा, युक्रेन, बांग्लादेश, भूटान, तुर्कमेनिस्तान, उजबेकिस्तान, कजाकिस्तान, तजाकिस्तान, लेबनान, कीनिया, तनीषिया, मेडागासकर, रसिया के अंतरराष्ट्रीय लोक कलाकार प्रतिदिन चौपाल पर अपनी प्रस्तुति से रंग जमाएंगे। इनके अलावा पंजाब पुलिस समूह द्वारा भांगडा व गिद्दा, हरियाणवी डांस, काला जादू, बीन पार्टी व बंचारी का नगाड़ा पार्टी भी मेले का आकर्षण रहेगी।

सरकारी व गैर सरकारी स्कूल तथा कॉलेजों के छात्र-छात्रओं को ग्रुप में आने पर निश्शुल्क एंट्री दी जाएगी। मेला प्रबंधन की ओर से इसके लिए संबंधित स्कूल या कॉलेज के प्राचार्य की ओर से लिखित में प्रार्थना पत्र होना अनिवार्य किया गया है। मेले में युद्ध वीरांगनाओं और उनके परिजनों को निश्शुल्क प्रवेश दिया जाएगा, जबकि दिव्यांग और विशेष वर्ग के व्यक्तियों को टिकट पर 50 फीसद की छूट दी जाएगी।

मेला परिसर में आए हस्तशिल्पियों को स्टाल मिलने में खासी परेशानी का करना पड़ा। एक स्टाल नंबर दो शिल्पियों को अलाट किया गया। बृहस्पतिवार को दोपहर बाद कई हस्तशिल्पियों ने स्टाल न मिलने पर यूपी पर्यटन विभाग की क्षेत्रीय अधिकारी अंजू चौधरी से मिलकर नाराजगी जताई।

मेले में जोन-4 में हट नंबर 701-826 से फूडकोर्ट की ओर जाने वाले रास्ते पर बीएसएफ का स्टॉल लगाया जाएगा। यहां बीएसएफ को तीन स्टॉल अलॉट किए गए हैं। एक में मेल-फीमेल बैंड का मेले में पहली बार प्रदर्शन किया जाएगा। दूसरे स्टॉल पर सेना में इस्तेमाल किए जाने वाले अत्याधुनिक हथियार प्रदर्शित किए जाएंगे और तीसरे स्टॉल पर शहीदों की वीरांगनाओं द्वारा बनाए गई की वस्तुओं की बिक्री की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.