IND vs SA 2nd T20: जीती तो दक्षिण अफ्रीका में यह रिकॉर्ड बना देगी विराट कोहली ब्रिगेड

0
475

सेंचुरियन: भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन टी20 मैचों की सीरीज का दूसरा मुकाबला अब से कुछ घंटों के बाद खेला जाना है. भारतीय टीम इस मुकाबले में जीत हासिल कर सीरीज को ‘लॉक’ करने के इरादे से उतरेगी, दूसरी ओर मेजबान दक्षिण अफ्रीका टीम की कोशिश सीरीज जीवंत रखने के लिए यह मैच जीतने पर होगी. भारतीय टीम ने जोहानेसबर्ग में पहला टी20 मैच 28 रन से जीता था और अगर वह अपने इस प्रदर्शन को जारी रखती हैं तो फिर वह इस दौरे में दूसरी सीरीज अपने नाम करने में कामयाब होगी. टेस्ट सीरीज में 1-2 से मिली हार के बाद भारत ने वनडे सीरीज 5-1 से जीती थी. विराट कोहली ब्रिगेड अब टी20 सीरीज जीतकर दक्षिण अफ्रीका दौरे का सुखद समापन करना चाहेगी.

कोहली हासिल कर सकते हैं वह उपलब्धि जो अब तक सिर्फरिचर्ड्स के नाम पर है…

दूसरे मैच में सीरीज अपने नाम करने की स्थिति में कोहली केपटाउन में तीसरे मैच में विश्राम ले सकते हैं क्योंकि अगले तीन महीनों में भी उनका व्यस्त कार्यक्रम है.सुपरस्पोर्ट पार्क की पिच इस पूरे दौरे में काफी धीमी खेलती रही और इसे ध्यान में रखते हुए भारत अंतिम एकादश में दो स्पिनरों को रख सकता है. चाइनामैन कुलदीप यादव के अंतिम एकादश में शामिल होने की संभावना है. पिछले मैच में सुरेश रैना को तीसरे नंबर पर उतारने का हैरानी भर फैसला देखने को मिला था. अगर कोहली खेलते हैं तो क्या वह फिर से ऐसा करेंगे? जोहानेसबर्ग में टीम प्रबंधन को लग गया था कि यह बड़े स्कोर वाला मैच होगा और उसने ऐसे में रैना को पावरप्ले में उतारने का फैसला किया था.

लाजवाब भुवनेश्‍वर, इस ‘ब्रह्मास्‍त्र’ का इस्‍तेमाल कर पहले टी20 में टीम इंडिया को जिताया

भारत के लिए निचला मध्यक्रम थोड़ा चिंता का विषय है. टीम प्रबंधन ने महेंद्र सिंह धोनी पर अपना भरोसा बनाये रखा है. यह पूर्व कप्तान भी ऊपरी क्रम में बल्लेबाजी का इच्छुक नहीं लगता है. कोहली के नंबर चार पर उतरने से निचले मध्यक्रम को भी स्थायित्व मिलता है. दूसरी तरफ दक्षिण अफ्रीका आठ दिन के अंदर दूसरी बार करो या मरो की स्थिति में है. उसकी परेशानियां हालांकि कम नहीं हो रही हैं और अब एबी डिविलियर्स टी20 सीरीज से बाहर हो गए हैं. उनकी जगह पर किसी अन्य खिलाड़ी को नहीं रखा गया और जेपी डुमिनी को उपलब्ध खिलाड़ियों में से ही विकल्प तलाशना होगा. कार्यवाहक कप्तान डुमिनी का मानना है कि वांडरर्स में पावरप्ले के ओवरों में शार्ट पिच गेंदें करने सहित उनकी सारी रणनीति सही थी लेकिन उस पर अच्छी तरह से अमल करने की जरूरत है. इससे लगता है कि टीम में ज्यादा बदलाव नहीं होंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.