बिहार में दो पत्रकारों की कुचलकर हत्‍या पर बवाल, SIT गठित; मुख्‍य आरोपी गिरफ्तार

0
463

बिहार के आरा में दो पत्रकारों की कुचलकर हत्‍या के आरोप में स्‍थानीय लोग सड़क पर उतर आए। भीड़ ने जमकर बवाल किया। इस बीच पुलिस ने मुख्‍य आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है।
सुबह-सुबह चार हत्‍याओं से दहला बिहार, घटनाओं से पुलिस के खिलाफ उमड़ा जनाक्रोश
भोजपुर । बिहार के आरा-सासाराम मुख्‍य पथ पर एक अनियंत्रित स्कार्पियों की टक्कर से दो पत्रकारों की मौके पर ही मौत हो गई। घटना गड़हनी थाना क्षेत्र के नहसी पुल के समीप देर रात हुई। घटना को हत्‍या बताते हुए स्‍थानीय लोग सड़क पर उतर आए। लोगों ने आरोपित पूर्व मुखिया के पति व उनके बेटे को गिरफ्तार करने की मांग की। आक्रोशित भीड़ ने आरा-सासाराम मुख्य पथ जाम कर आगजनी की।
घटना को लेकर पुलिस मुख्‍यालय गंभीर हो गया है। घटना की जांच को लेकर डीएसपी के नेतृत्‍व में एसआइटी का गठन कर दिया गया है। पटना के जोनल आइजी नैयर हसनैन खान मामले की मॉनीटरिंग कर रहे हैं। इस बीच मुख्‍य आरोपी हरसू मिंया को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।
ऐसे हुई घटना
मिली जानकारी के अनुसार गड़हनी थाना क्षेत्र के बगवां गांव निवासी खजांची सिंह के पुत्र नवीन निश्चल एक हिंदी दैनिक के लिए काम करते थे। वे बाइक पर गांव के ही एक पत्रिका के लिए काम करने वाले पत्रकार विजय सिंह के साथ घर लौट रहे थे। इसी दौरान उन्‍हें तेज रफ्तार स्‍कॉर्पियो ने ठोकर मार दी। दोनों की मौके पर ही मौत हो गई।
दी थी हत्‍या की धमकी
स्‍कॉर्पियो एक पूर्व मुखिया संजीदा परवीन के पति हरसू मियां की है, जिनकी मृतक पत्रकार नवीन निश्‍चल से खबरों को लेकर पूर्व की अदावत थी। बताया जा रहा है कि हरसू की रविवार की शाम में भी नवीन निश्‍चल से बकझक हुई थी, जिसमें उसने हत्‍या की धमकी दी थी। घटना के वक्‍त हरयू का बेटा भी स्‍कॉर्पियों में था।
भीड़ ने जमकर किया बवाल
घटना की जानकारी मिलते ही वहां स्थानीय लोगों की भारी भीड़ जुट गई, लेकिन इस बीच स्कार्पियों पर सवार लोग व चालक गाड़ी छोड़कर फरार हो गए। गुस्साए लोगों ने स्कार्पियों को आग के हवाले कर दिया। लोगों ने शव के साथ सड़क जाम कर दिया। सड़क जाम कर रहे ग्रामीणों ने पुलिस-प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उन्‍होंने स्‍थानीय थाना की अपराण्धियों के साथ मिलीभगत के भी आरोप लगाए। देर रात माहौल शांत हुआ, लेकिन सोमवार की सुबह से लोग फिर सड़क पर उतर आए।
पुलिस मुख्‍यालय ने दिया जांच का आदेश
इस बीच पुलिस मुख्‍यालय ने मामले की जांच का आदेश दे दिया। एसपी अवकाश कुमार ने बताया कि भोजपुर के डीएसपी के नेतृत्‍व में एसआइटी का गठन कर दिया गया है। पूरे ऑपरेशन की निगरानी पटना के जोनल आइजी नैयर हसनैन खान कर रहे हैं। जोनल आइजी ने पूर्व मुखिया और पत्रकार के बीच विवाद की जानकारी दी है।
मुख्‍य आरोपित गिरफ्तार
इस बीच पुलिस ने मुख्‍य आरोपित हररूू मियां की गिरफ्तारी की पुष्टि की है। बताया जा रहा है कि इस मामले में गड़हनी के वर्तमान थाना प्रभारी की भूमिका की भी जांच होगी। केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने भी पूरे मामले की जांच को जरूरी बताया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.