महाराष्ट्र: धुले मॉब लिंचिंग का मुख्य अभियुक्त गिरफ्तार,अबतक 25 अरेस्ट

0
242

महाराष्ट्र में धुले जिले के रैनपाडा में एक जुलाई को पांच व्यक्तियों को पीट-पीटकर मार डालने वाली भीड़ का कथित रूप से हिस्सा होने को लेकर एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार किए गए व्यक्ति की पहचान दशरथ पिंपालसे (35) के रूप में हुई है। पुलिस का कहना है कि दशरथ इस घटना का मुख्य अभियुक्त है। यह इस घटना में 25 वीं गिरफ्तारी है। बता दें कि गुस्साई भीड़ ने पांच व्यक्तियों को बच्चा चोर होने के संदेह में पीट-पीटकर मार डाला था। पांचों सोलापुर जिले के रहने वाले थे और वे नाथ गोसावी समुदाय से थे।
बच्चा चोरी के शक में जिन पांच लोगों की पीट-पीटकर हत्या की गई थी वे घुमंतू नाथ गोसावी समुदाय के थे। पुलिस के मुताबिक ये एक शांत जनजाति है जिसका कोई अपराधिक रिकॉर्ड नहीं है। महाराष्ट्र पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि समुदाय के सदस्य आमतौर पर एक जगह से दूसरी जगह काम तथा भोजन की तलाश में घूमते हैं, लेकिन अंतत: वे भीख मांगने और नट कला का प्रदर्शन करने को मजबूर हो जाते हैं। धुले के पुलिस अधीक्षक एम राजकुमार ने कहा, ”ये लोग सभी से प्यार एवं सम्मान से बात करते हैं क्योंकि इन्हें उनसे मदद चाहिए होती है। वह हैरान है कि क्यों एक जुलाई को धुले के रैनपाड़ा गांव में समुदाय के पांच सदस्यों पर हमला कर भीड़ ने उनकी पीट-पीटकर हत्या कर दी।
क्षेत्र में इन घुमंतू आदिवासियों के बच्चा चोरी करने की अफवाहों के चलते गत एक जुलाई को धुले जिला मुख्यालय से करीब 100 किलोमीटर दूर रैनपाड़ा गांव में भीड़ ने समुदाय के पांच लोगों की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। घटना के वायरल हुए वीडियो में भीड़ इन लोगों को लाठी-डंडों, चप्पलों और पत्थरों से मारती नजर आ रही है। यह घटना तब हुई जब इन पांच लोगों में से एक ने छह वर्षीय एक लड़की से बात करने की कोशिश की थी। पुलिस ने मामले में अब तक 25 लोगों को गिरफ्तार किया है और 22 अन्य लोगों की पहचान की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.