जम्मू-कश्मीर: नए स्थानीय आतंकियों को मिलेगा आखिरी मौका

0
329

आतंक की शरण में जा रहे गुमराह नौजवानों को एक आखिरी मौका देने के बाद ही सुरक्षा बल उनपर कार्रवाई करेंगे। हिज्बुल मुजाहिदीन में हाल में शामिल हुए दर्जन भर स्थानीय युवाओं के परिवार से संपर्क स्थापित करने का प्रयास सुरक्षा बल कर रहे हैं। सुरक्षा एजेंसी से जुड़े एक अधिकारी के मुताबिक, सुरक्षा बल हिज्बुल के चेहरों का पूरा ब्योरा खंगाल रहे हैं। हाल में जारी किए गए फोटों के आधार पर उनके नजदीकियों से संपर्क किया जा रहा है। अगर आतंकी बने युवा आतंक का रास्ता छोड़कर मुख्यधारा में लौटने को तैयार हुए तो सुरक्षा बल उनका पूरा सहयोग करेंगे। लेकिन, आतंकी घटनाओं को अंजाम देने की कोशिश पर उनका हश्र अन्य आतंकियों की तरह ही होगा। सुरक्षा बल से जुड़े सूत्रों ने कहा कि बुरहान वानी की बरसी पर हिज्बुल ने अपने आतंकी चेहरों की फोटो जारी की हे। इसमें ज्यादातर चेहरे दक्षिण कश्मीर से हैं। लेकिन, मध्य व उत्तर कश्मीर से भी भर्तियां की गई हैं। सूत्रों ने कहा कि हिज्बुल लगातार आतंकियों की भर्ती कर रहा हे। सुरक्षा बलों ने नए सिरे से तैयार की गई हिट लिस्ट के मुताबिक, हिज्बुल का प्लान विफल करने की योजना बनाई है। सुरक्षा बल बुरहान वानी गैंग के सभी पोस्टर ब्वॉय का खात्मा कर चुकी है। इस मुहिम के बाद यह लगने लगा था कि हिज्बुल आतंक को ग्लैमराइज करने की अपनी कोशिश शायद छोड़ देगा। लेकिन, एक बार फिर हिज्बुल ने नए चेहरों को सार्वजनिक करके अपनी मंशा साफ की है। सुरक्षा बल से जुड़े सूत्रों ने कहा कि ऑपरेशन ऑलआउट का तेवर पूरी तरह से आक्रामक है। हिज्बुल के अलावा लश्कर व जैश की गतिविधियों पर पूरी तरह से नजर रखी जा रही है। आतंकी गुट लश्कर व जैश की सीमा पार से घुसपैठ के प्रयासों पर नकेल कसने में बीएसएफ को सफलता मिल रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.