भ्रष्टाचार मामला : पाकिस्तान पहुंचते ही नवाज शरीफ और मरियम होंगे गिरफ्तार

0
219

भ्रष्टाचार के एक मामले में दोषी ठहराए जा चुके पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम 13 जुलाई को पाकिस्तान पहुंचेंगे। देश पहुंचते ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। पाकिस्तान के कानून मंत्री अली जफर ने सोमवार को कहा, अपदस्थ प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम को देश के किसी भी हवाईअड्डे पर पहुंचने के बाद गिरफ्तार कर लिया जाएगा। सरकार जवाबदेही अदालत के आदेश को पूरी तरह लागू करेगी। कानून प्रवर्तन एजेंसियां अदालती आदेश को लागू करते हुए शरीफ और मरियम को हवाईअड्डे पर पहुंचते ही गिरफ्तार कर लेंगी। मरियम ने पाकिस्तान वापसी के लिए अपनी उड़ान का ब्योरा रविवार शाम मीडिया से साझा किया था। मरियम ने बताया कि वह इत्तेहाद एयरवेज की उड़ान ईवाई-243 से शुक्रवार शाम सवा छह बजे लाहौर हवाईअड्डा पहुंचेंगी। पीएमएल-एन के प्रवक्ता मरियम औरंगजेब ने भी कहा कि शरीफ और मरियम एक विदेशी एयरलाइन से अबूधाबी होते हुए शुक्रवार को लाहौर पहुंचेंगे। राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) ने भी घोषणा की है कि शुक्रवार को शरीफ और मरियम के लाहौर पहुंचने पर वह उन्हें गिरफ्तार कर लेगा। ब्यूरो के एक अधिकारी ने सोमवार को बताया कि उन्होंने इस सिलसिले में पंजाब सरकार को समन्वय बनाने के लिए कहा है। ताकि शरीफ और मरियम को हवाईअड्डे पर गिरफ्तार किया जा सके। इस्लामाबाद स्थित जवाबदेही अदालत ने पिछले शुक्रवार को शरीफ और मरियम को एवेनफिल्ड संपत्ति भ्रष्टाचार मामले में क्रमश: 10 साल और सात साल की सश्रम कारावास की सजा सुनाई थी। नवाज शरीफ के दामाद कैप्टन मोहम्मद सफदर अवान (रिटायर) को सोमवार को कड़ी सुरक्षा के बीच रावलपिंडी की अदियाला जेल भेज दिया गया है। उन्हें राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो ने रियल एस्टेट संबंधी भ्रष्टाचार के एक मामले में गिरफ्तार किया था। अवान को भ्रष्टाचार के मामले में एक साल की सजा दी गई है। इसी से जुड़े मामले में शरीफ व उनकी बेटी मरियम को शरीफ परिवार द्वारा लंदन में आलीशान फ्लैट की खरीद को लेकर सजा दी गई है।जेल अधिकारियों ने बताया कि अवान की जेल में डॉक्टरी जांच की गई और उन्हें बाद में बी श्रेणी के कैदियों की बैरक में भेज दिया गया। अवान दोषी करार दिए जाने के बाद शुक्रवार को कथित तौर पर भूमिगत हो गए थे। इसके एक दिन बाद वह रावलपिंडी में दिखाई दिए और पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) की एक रैली का नेतृत्व किया, जहां उनके समर्थकों के भारी विरोध के बीच भ्रष्टाचार रोधी अधिकारियों ने उन्हें आखिरकार गिरफ्तार किया। एनएबी ने रविवार को बयान में अवान को एक दोषी बताया और मीडिया से उन्हें बढ़ावा देने से परहेज करने को कहा, क्योंकि इससे अराजकता बढ़ सकती है। अधिकारियों ने कहा कि उनकी मदद करने वालों को कड़ी कार्रवाई का सामना करना होगा। इस बयान के बाद एनएबी अधिकारियों ने गिरफ्तारी में बाधा डालने को लेकर अवान व दूसरे पीएमएल-एन के नेताओं के खिलाफ एक मामला दर्ज किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.